बीकानेर। मेडिकल कॉलेज की छात्रा मनीषा के सुसाइड करने के आठ दिन बाद भी पुलिस को ऐसा कोई सुराग नहीं मिला जो इस सुसाइड करने के कारणों की ओर इशारा करता है। पुलिस के पास आखरी उम्मीद बची उसकी कॉल डिटेल भी निकलवा ली है। बता दें कि कॉल डिटेल में पुलिस को ऐसी कॉल नहीं मिली जो कि इस सुसाइड से जुड़ी हो। मामले की जांच कर रहे जेएनवीसी थानाधिकारी गोविंद सिंह से मिली जानकारी के अनुसार छात्रा के फोन की कॉल डिटेल निकलवा ली गई है। उन्होंने बताया कि कॉल डिटेल में ऐसी कोई कॉल नहीं मिली है जो कि इस सुसाइड के कारणों ओर इशारा करती हो। उन्होंने कहा कि फिलहाल इस मामले की जांच चल रही है। मृतक छात्रा मनीषा के दो दोस्त लड़कियों से भी पूछताछ की जाएगी, जो कि फिलहाल अपने घर गई हुई है, यहां आने के बाद उनसे भी पूछताछ की जाएगी।
ज्ञात रहे कि 20 जुलाई को मेडिकल कॉलेज की इंटर्न डॉक्टर मनीषा कुमावत ने कॉलेज के होस्टल के कमरे में फांसी का फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली थी। मृतक मनीषा नोहर तहसील के अनूपसर गांव की रहने वाली होनहार छात्रा थी।