>


बीकानेर। खाजूवाला विधायक गोविंद मेघवाल आज सदन विधानसभा में नोखा में हुए दुष्कर्म व लूट सहित तीन मामलों को न्यायिक जांच सही तरीके से करवाने को लेकर अध्यक्ष को अवगत कराया। इसके साथ ही उन्होंने पूर्व सरकार में अधिकारियों पर मिलीभगत का आरोप भी लगाया। उन्होंने बताया कि नोखा में मुकदमा संख्या ११७/१८ धारा ३७६ के अपहरण कर एक विवाहिता के साथ दुष्कर्म करने के मामले में उन्होंने कहा कि पहले विवाहिता के साथ दुष्कर्म किया। बाद में दुष्कर्म करने वालों ने ही अपने नौकर को भेजकर उसके पति अर्जुनसिंह की हत्या करवा दी।

उस समय पुलिस ने आरोपी को पकड़ लिया लेकिन आज तक वो लोग सामने नहीं आये जिन्होंने अर्जुनसिंह की हत्या करवाई थी क्योंकि व लोग पूर्वी सरकार में प्रभावशाली लोग थे इसलिए आज तक उन पर कोई कार्यवाही नहीं हुई। बाद में उस विवाहिता के साथ राजनीना के नाम १५ लाख रुपये दिये और उनको भी जयनारयणा व्यास कॉलोनी क्षेत्र में बोलोरे गाड़ी को रोककर विवाहिता से १५ लाख रुपये लूट कर ले गये। मुकदमा संख्या ३४१, ३२३, २८२, १४३ के तहत मामला दर्ज किया। पुलिस ने उस समय दो लाख रुपये तो बरामद कर लिये क्योकि वो भागते समय मौके पर ही रहे गये थ। लेकिन १३ लाख रुपये पुलिस अधिकारियों व जांच अधिकारियों में बंदरबांट हो गये। मेघवाल ने अध्यक्ष से कहा कि दुष्कर्म, लूट व डकैती के मामले में दुबारा जांच करवाकर पीडि़ता को न्याय दिलावाये जाये व आरोपियों को सजा देने की मांग की है