>


जोधपुर। भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो स्पेशल यूनिट जोधपुर के डीआईजी विष्णुकांत के निर्देशन में लगातार एक के बाद एक कार्यवाही को अंजाम दिया जा रहा है. उसी के तहत आज जोधपुर संभाग में आने वाले बाड़मेर के सिवाना में एसीबी द्वारा बड़ी कार्यवाही की गई जिसमें डिस्कॉम के लाइनमैन नवल मीणा व दलाल बाबूसिंह को 20 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया गया. बिजली के मीटर संबंधी कार्यवाही नहीं करने की एवज में परिवादी देवाराम से यह रिश्वत की राशि मांगी गई. एडिशनल एसपी दुर्गसिंह राजपुरोहित के नेतृत्व में इस कार्यवाही को परिवादी के पादरू स्थित किराये के मकान में अंजाम दिया गया.
मीटर पर कार्यवाही नहीं करने की एवज में मांगी रिश्वत
गौरतलब है कि परिवादी देवाराम की गांव पादरू में चैंपीयन हैयर सैलून नाम से बाल काटने की दुकान है. जहां पर लाइन मैन नवल मीणा व कनिष्ठ अभियंता जितेन्द्र सैनी दुकान पर आये व आकर परिवादी की दुकान का बिजली का मीटर खोलकर ले गये. उक्त मीटर पर कार्यवाही नहीं करने की एवज में नवल किशोर मीणा द्वारा 20 हजार रुपए की रिश्वत राशि की मांग की गई थी जिसपर दलाल भगवान प्रसाद को इस राशि को दिलवाया गया जिसके तहत आज एसीबी टीम द्वारा कार्यवाही करते हुए रिश्वत राशि बरामद करने के साथ ही दोनों को गिरफ्तार किया गया।