खुलासा न्यूज़, बीकानेर। धोरों पर उतार चढ़ाव में बसे श्रीडूंगरगढ़ शहर के निवासियों के लिए पेयजल संकट करीब हर वार्ड में हर मोहल्ले में है। धोरों पर बसे घरों में पानी पहुंचाने के लिए जलदाय विभाग द्वारा भी जहां कोई विशेष प्रयास नहीं हुए है वहीं विभिन्न मोहल्लों के रसूखदारों ने अपने प्रभाव से जलदाय विभाग की मुख्य राईजिंग लाईनों में कनेक्शन लेकर कोढ़ में खाज का काम कर रखा था। राईजिंग लाईनों में कनेक्शन लेने के कारण इन लाईनों का प्रेशर टूट जाता है एवं कनेक्शन लेने वालों के यहां तो दिन के अधिकांश समय पूरे वेग से पानी आता है लेकिन जहां पर पानी भेजने के लिए ये लाईनें लगाई जाती है वहां तक पानी नहीं पहुंच पाता। ऐसे में ऊंचाई वाले क्षेत्रों में पेयजल संकट स्थाई हो गया था। क्षेत्रवासियों ने श्रीडूंगगढ़ में आयोजित जनसुनवाई में इसकी शिकायत जब कलक्टर कुमारपाल को की तो कलक्टर ने त्वरित कार्यवाही करने के निर्देश दिए। कलक्टर के निर्देश के बाद आज जलदाय विभाग सक्रिय हुआ और रसुखदारों के प्रभाव से मुक्त होकर राईजिंग लाईनों के कनेक्शन काटने शुरू कर दिए है। जलदाय विभाग द्वारा कार्यवाही के बाद हर किसी की जुबां पर यही है कि अब दिखा है कलक्टर कुमारपाल गौतम का पावर। ऐसे में हर ओर कलक्टर कुमारपाल गौतम की वाहवाही हो रही है।