>


जिला कलेक्टर केपी गौतम ने एसडीएम व तहसील कार्यालय का निरीक्षण कर बिजली, पानी व सड़क सहित कई समस्याओं के समाधान के दिए निर्देश।
– 20 बीडी रात्रि चौपाल में 7वी के छात्रों को नहीं लिखने आया अपना नाम, ग्रामीणों का आरोप शिक्षक खेलते है ताश, कार्यवाही के दिये निर्देश 
खाजूवाला। बीकानेर जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने मंगलवार सायं खाजूवाला पहुंचे। यहाँ जिला कलेक्टर केपी गौतम ने एसडीएम कार्यालय और तहसीलदार कार्यालय का निरीक्षण कर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। निरीक्षण से पूर्व जिला कलेक्टर में उपखंड स्तरीय अधिकारियों की बैठक ली। बैठक में बिजली, पानी, सड़क, सफाई सहित अनेक मुद्दों पर चर्चा कर अधिकारियों से जानकारी ली और राजस्व, नामांतरण, खातेदारी से जुड़े प्रकरणों को समयबद्ध तरीके से निस्तारित करने के आवश्यक दिशा निर्देश दिए। वहीं जिला कलेक्टर केपी गौतम को बार एशोसिएशन के अध्यक्ष एडवोकेट रफीक शाह के नेतृत्व में वकीलो ने कोर्ट में पानी, बैठने व उपकारागृह खोलने, व्यापारी मनीराम गोदारा व रामप्रताप भादू के नेतृत्व में व्यापारियों ने चोरी, नशीली दवाओं पर कार्यवाही करने, 40 केवाईडी सरपंच मांगीलाल मेघवाल ने रिक्त पदो को भरने सहित अन्य समस्याओं के ज्ञापन सौंपे गए।

डीएम की 20 बीडी में रात्रि चौपाल हुई…
पंचायत समिति खाजूवाला की ग्राम पंचायत 20 बीडी में जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम ने रात्रि चौपाल लगाई। 20 बीडी सरपंच सविता रानी मेघवाल की अध्यक्षता में आयोजित हुई रात्रि चौपाल में शिक्षा, चिकित्सा, बिजली, तहसील एवं उपखंड के सम्पूर्ण अधिकारियों व कार्मिकों को संबंधित कार्यालय में समय पर पाबंद रहने की बात कही। उन्होंने समय से पूर्व अधिकारियों व कर्मचारियों के कार्यालय में नहीं होने की व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिए। जिला कलेक्टर केपी गौतम ने कहा कि देरी से आने वाले कार्मिकों के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। इसके अलावा शिक्षा, चिकित्सा, बिजली व पानी की समस्याओं का निस्तारण नही करवाने पर संबंधित अधिकारियों को फटकार लगाई। वहीं रात्रि चौपाल में राजकीय माध्यमिक विद्यालय 20 बीडी के छात्र नरेंद्र, दिलजोद आदि 7वी कक्षा के छात्रों को जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम ने नाम लिखने को कहा तो विधार्थियो द्वारा सही नाम नहीं लिखा गया। इस पर कलेक्टर ने नाराजगी जताते हुए शिक्षकों को कड़ी फटकार लगाई। इसके अलावा शिक्षिका पूर्णिमा तँवर के स्कूल नियमित नही आने पर चार्जशीट देने के निर्देश शिक्षा विभाग के संबंधित अधिकारियों को दिए। वही ग्रामीणों ने शिकायत दर्ज करवाई कि शिक्षकों के 20 बीडी में पहले से पद खाली पड़े हैं और जो शिक्षक आते हैं वो ताश खेलकर समय व्यतीत करते हैं। इस दौरान 20 बीडी सरपंच सविता रानी मेघवाल, जिला परिषद सीईओ नरेंद्र पाल सिंह, एसडीएम मनीष फ़ौजदार, तहसीलदार महावीरप्रसाद बाकोलिया, बीडीओं रामचन्द्र मीणा, मंडी सेकेट्री सीएल स्वामी, सिंचाई विभाग के एक्सईएन अनिल कैथल, बिजली विभाग के एईएन सतीश कुमार, पीएचईडी के जेईएन डिबेश वर्मा, ब्लॉक सीएमएचओ डॉ. पवन सारस्वत सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी व कार्मिक मौजूद रहे।