>

बीकानेर। जिलेभर में सोमवार को शीतला अष्टमी का पर्व परंपरागत रूप से हर्षोल्लास के साथ मनाया जाएगा। इस मौके पर शीतला गेट स्थित शीतला माता मंदिर पर मेला भरेगा। सुबह माता को शीतल व्यंजनों का भोग अर्पण कर ठंडा भोजन ग्रहण करेंगे। इसके लिए महिलाएं आज से ही पकवान बनाने की तैयारियों में जुटी हुई है। महिलाएं माता के माता के भोग के लिए विविध पकवान बनाएंगी। घर-घर पकवान बनाए जा रहे है। इसके चलते घर घर पकवानों की खुशबू महक रहे हैं। बाजार में मटके, कलश एवं सराई बिक्री के लिए फुटपाथ पर दुकानें लगी हुई है। अगले दिन शीतला माता के ठंडे पकवानों का भोग लगाने के बाद सभी लोग परंपरा के अनुसार शीतल भोजन करेंगे।महिलाएं तड़के गीत गाते हुए शीतला माता के मंदिरों में भोग लगाएंगी और पत्थवारी पूजेंगी। साथ ही पानी व नमक से माता को स्नान करवाया जाएगा। मान्यता के अनुसार शीतला माता के पूजन और ठंडा भोजन करने से माता प्रसन्न होती है और शीतला जनित रोगों का प्रकोप कम होता है।