>



जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर में बृहस्पतिवार को तेज बारिश हुई और रुक-रुक कर बेर के आकार के ओले गिरे। शहर में ओलावृष्टि से घरों के बाहर और सड़क पर सफेद चादर सी बिछ गई। जयपुर के अलावा सीकर और बाड़मेर सहित कई अन्य जिलों में भी बारिश और ओलावृष्टि हुई। मौसम विभाग ने पूर्वी और पश्चिमी राजस्थान के कुछ जिलों में 7 मार्च तक मेघगर्जन के साथ ओलावृष्टि और बरसात होने की चेतावनी जारी की है। इससे पहले जयपुर और प्रदेश के कई जिलों में बुधवार सुबह से शाम तक रूक-रूककर कई इलाकों में हल्की बूंदाबांदी हुई। बरसात के साथ ओलावृष्टि होने से फसलों को भी भारी नुकसान हुआ है। बरसात से हल्की सर्दी का भी अहसास होने लगा है।
यह है बारिश का कारण
पश्चिमी ईरान और उससे सटे अफगानिस्तान पर एक चक्रवाती परिसंचरण के रूप में पश्चिमी विक्षोभ मौजूद है, जोकि सतह से 3.1 किमी और 7.6 किमी के बीच स्थित है। इसके प्रभाव से एक प्रेरित चक्रवाती परिसंचरण दक्षिण पाकिस्तान और उसके आसपास बना हुआ है। जो समुद्र तल से 1.5 किमी ऊपर है। इसके चलते मौसम खराब हुआ है।

इन जिलों में चेतावनी
मौसम विभाग ने पूर्वी और पश्चिमी राजस्थान के कई जिलों में खराब मौसम को लेकर चेतावनी जारी की है। जयपुर, भरतपुर, जोधपुर, बीकानेर, कोटा संभाग में 7 मार्च तक कई इलाको में मेघगर्जन के साथ तेज बारिश और ओलावृष्टि हो सकती है