जयपुर। पुलिस अधीक्षक जोधपुर ग्रामीण श्री राहुल बारहट ने बताया कि जोधपुर एवं बीकानेर रेंज में 007 नाम से कुख्यात गेंगस्टरों की धरपकड़ हेतु गठित विशेष टीम ने महाराष्ट्र के कोल्हापुर जिले में पुलिस मुठभेड़ के दौरान कुख्यात गैंगस्टर श्याम पुनिया, श्रीराम मांजु एवं श्रवण विश्नोई को गिरफतार करने में सफलता अर्जित की है। मुठभेड़ के दौरान श्याम पुनिया ने पुलिस दल पर फायर किया, जबाबी कार्रवाई में पुलिस द्वारा फायर करने पर श्याम पुनिया एवं श्रवण विश्नोई के गोली लगने से घायल हो गए जो अभी कोल्हापुर अस्पताल में भर्ती है।
अपराधी श्याम पुनिया का अपराधिक विवरण : मुलजिम श्याम पुनिया पुत्र श्री गोरधनराम विश्नोई निवासी भीयासर थाना भोजासर आले दर्ज का बदमाश, गेंगस्टर एवं हिस्ट्रीशीटर है। जिसके विरूद्ध पुलिस थाना भोजासर, बाप, लोहावट, सुजानगढ़ जिला चुरू, थाना गंगाशहर जिला बीकानेर में हत्या के प्रयास, लूट, डकैती, नकबजनी, चोरी, धोखाधड़ी, उद्धापन के 15 प्रकरण दर्ज है। श्याम पुनिया राज्य स्तर पर टॉप 6 एवं जोधपुर रेंज स्तर पर टॉप 10 में चिन्हित वांछित अपराधी है। श्याम पुनिया पर पुलिस मुख्यालय राजस्थान जयपुर द्वारा 20000 एवं महानिरीक्षक पुलिस जोधपुर रेंज द्वारा 10,000 रूपये का ईनाम घोषित कर रखा है। श्याम पुनिया काफी लम्बे समय से फरार चल रहा था। श्याम पुनिया 007 गेंग का मुखिया है। अपराधी श्रीराम मांजु का अपराधिक विवरण : मुलजिम श्रीराम मांजु पुत्र श्री पांचाराम विश्नोई निवासी भाटेलाई पुरोहितान, थाना बालेसर जिला जोधपुर ग्रामीण आले दर्ज का बदमाश गेंगस्टर एवं हिस्ट्रीशीटर है। जिसके विरूद्ध जोधपुर ग्रामीण के पुलिस थाना बालेसर, लोहावट, शेरगढ़, बाप, व भोजासर एवं जोधपुर आयुक्तालय के थाना झंवर,करवड़ एवं बोरानाडा तथा जिला चुरू के पुलिस थाना सुजानगढ़ में हत्या के प्रयास, लूट, डकैती, नकबजनी, चोरी, धोखाधड़ी, उद्धापन के 21 प्रकरण दर्ज है। श्रीराम मांजु राज्य स्तर पर टॉप 25 एवं जोधपुर रेंज स्तर पर टॉप 10 में चिन्हित वांछित अपराधी है। श्रीराम मांजु पर पुलिस मुख्यालय राजस्थान द्वारा 10000 एवं महानिरीक्षक पुलिस जोधपुर रेंज द्वारा 10,000 रूपये का ईनाम घोषित है। श्रीराम मांजु काफी लम्बे समय से फरार चल रहा था। श्रीराम मांजु 007 गेंग का मुख्य सदस्य है तथा श्याम पुनिया का दाहिना हाथ है।
अपराधी श्रवण का अपराधिक विवरण: मुलजिम श्रवण विश्नोई पुत्र श्री मनोहरलाल विश्नोई निवासी भाखरी थाना लोहावट भी आले दर्ज का बदमाश है। जिसके विरूद्ध पुलिस थाना लोहावट एवं मतोड़ा जिला जोधपुर ग्रामीण में लूट एवं उद्धापन के 2 प्रकरण दर्ज है। श्रवण विश्नोई भी 007 का सक्रिय सदस्य है। महानिरीक्षक पुलिस रेंज व जिला पुलिस अधीक्षक जोधपुर ग्रामीण के निर्देश पर 007 गैंग के खात्मे के लिये गठित विशेष टीम ने गैंग के सभी सदस्यों पर लगातार निगरानी रख आसूचना संकलित कर सम्पूर्ण डाटाबेस तैयार किया । संकलित आसूचना के आधार पर वांछित गैंगस्टर श्याम पुनिया एवं उसके साथियों का जिला हुबली कर्नाटका में होने की सूचना पर डीएसटी जोधपुर ग्रामीण प्रभारी पुलिस निरीक्षक श्री नरेन्द्र पुनिया, थानाधिकारी भोजासर श्री हरिसिंह राजपुरोहित, श्री श्रवणकुमार, श्री देवाराम विश्नोई, श्री शैतानाराम विश्नोई एवं श्री मोहन चौधरी (कमाण्डो) की विशेष टीम को हुबली भेजा गया। विशेष टीम ने हुबली पहुंच 007 गैंग के ठिकानों के बारे में आसूचना संकलित कर संभावित स्थानों पर तलाश की गयी। श्याम पुनिया एवं श्रीराम मांजु को जोधपुर पुलिस के हुबली आने की भनक लगने पर स्वीफ्ट कार में हुबली से बेलगाम की तरफ भागने लगे। जिनका जोधपुर ग्रामीण स्पेशल टीम द्वारा पिछा किया गया। जिला हुबली में नाकाबंदी करवाई गयी। तत्पश्चात बेलगाम (कर्नाटक) में नाकाबंदी करवाई गयी परन्तु शातिर बदमाश भागते रहे। जिनका जोधपुर ग्रामीण की स्पेशल टीम द्वारा लगातार 200 किलोमीटर तक पिछा जारी रखा। जोधपुर ग्रामीण पुलिस अधीक्षक राहुल बारहट ने कोल्हापुर पुलिस अधीक्षक श्री अभिनव देशमुख से वार्ता कर सघन हथियारबंद नाकाबंदी प्रारम्भ करवाई। कोल्हापुर में किन्नी टोल नाका पर पुलिस की नाकाबंदी में स्वयं को फंसता देखकर श्याम पुनिया एवं श्रीराम मांजु ने पुलिस दल पर फायरिंग शुरू कर दी। जिस पर पुलिस टीम द्वारा जबाबी कार्यवाही में फायर किये, श्याम पुनिया के 3 गोली एवं श्रवण विश्नोई के 1 गोली लगी। पुलिस टीम ने सतर्कता एवं होशियारी के साथ तीनों को दस्तयाब करने में सफलता अर्जित की। तीनो के विरुद्ध थाना बडग़ांव कोल्हापुर, महाराष्ट्र में मुकदमा दर्ज किया गया।