बीकानेर। संभाग की सबसे बड़ी अस्पताल पीबीएम में दो दिन पहले मेडिकल रिलीफ सोसाईटी में करीब 55 लाख रुपये के गबन का मामला एसीबी में चल रहा था। जिसमें तहत एसीबी ने कार्यवाही करतेे हुए इस मामले में पीबीएम से दो लोगों को गिरफ्तार किया जिसमें प्रवीण कच्छावा व मालूसिंह को एसीबी ने पकड़ कर न्यायालय में पेश किया जहां उनको जेसी कर दिया। सूत्रों के हवाले से खबर आई है कि प्रवीण कच्छावा सरकारी गवाह बन गया है और उसने अब तक करीब 27 भ्रष्टाचारियों के नाम एसीबी के सामने खोले है। कच्छावा के सरकारी गवाह बनते ही पीबीएम की गलियारों में चर्चा का दौर शुरु हो गया कि अब ये 27 लोग कौन है,जो पीबीएम के 55 लाख रुपये के गबन में शामिल थे। खुलासा जल्द ही 27 नामों को उजागर करेगा।