>



खाजूवाला। 61 हैड कालोनी के राजकीय प्राथमिक विद्यालय के इस सरकारी अध्यापक का खाजूवाला के अनेक व्हाट्सएप ग्रुप पर शराब पीकर ग्रामीणों को गालियां निकालने का ऑडियो सामने आया है। वायरल ऑडियो में 17 केवाईडी के पूर्व सरपंच के साथ गाली गलौज की गई है तो वहीं पूर्व मंत्री देवीसिंह भाटी पर भी इस वायरल ऑडियो में टिप्पणी भी की गई है। खाजूवाला क्षेत्र के एक सरकारी विद्यालय के अध्यापक का ऑडियो इस समय सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। उस पर अब शिक्षा विभाग के अधिकारी भी सकते में नजर आ रहे हैं। 61 हेड कॉलोनी के सरकारी विद्यालय में यह अध्यापक पिछले कई महीनों से कार्यरत है। यहां तक कि उसी विद्यालय की एक अध्यापिका पर भी इस वायरल ऑडियो में भद्दी टिप्पणी की गई है। जिसको लेकर अब यह मामला और भी सुर्खियों में आ गया है। उसी विद्यालय की अध्यापिका ने पुलिस थाना में एक परिवाद दिया है। जिसमें उन्होंने उसी विद्यालय के अध्यापक गोपाल जाम पर अनेक संगीन आरोप भी लगाए हैं। अध्यापिका ने कहा है कि गोपाल जाम शराब के नशे में धुत रहता है। शराब पीकर स्कूल में भी आता है। जिसके कारण विद्यालय में पढऩे वाली लड़कियों को जहां परेशानी हो रही है। वही बालिकाएं भी विद्यालय आने से कतराती है। साथ ही उन्होंने आरोप लगाया है कि स्कूल समय में फोन बंद रहने चाहिए लेकिन यह अध्यापक पूरे दिन स्कूल में फोन पर ही बातचीत करता रहता है। साथ ही बच्चों के सामने ही अपशब्दों का प्रयोग करता है जिससे बच्चे भी स्कूल आने से कतरा रहे हैं। इसको लेकर खाजूवाला ब्लॉक शिक्षा अधिकारी को भी कई बार अवगत करवा दिया है। वहीं अब ग्रामीणों ने भी अध्यापक गोपाल जाम व 17 केवाईडी के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के प्रिंसिपल मांगीलाल के खिलाफ भी मोर्चा खोल दिया है। उन्होंने प्रिंसिपल व अध्यापक गोपाल जाम के विरुद्ध भी जिला शिक्षा अधिकारी को पत्र लिखकर अवगत करवाया है कि प्रिंसिपल मांगीलाल अध्यापक गोपाल जाम के साथ मिलकर शराब पीकर विद्यालय में उत्पात मचाता है।ग्रामीणों द्वारा मना करने के बावजूद भी उनके साथ गाली-गलौच भी करता है। जिससे 17 केवाईडी के आसपास के सभी विद्यालयों में अराजकता का माहौल बना हुआ है। बच्चों का भविष्य अंधकार में नजर आ रहा है। स्कूल की व्यवस्था बिगड़ चुकी है वहीं बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने जिला शिक्षा अधिकारी को अवगत करवाते हुए प्रिंसिपल को तुरंत हटाने व गोपाल जाम को 61 हैड विद्यालय से तुरंत सस्पेंड करने की मांग की है।