>


खुलासा न्यूज,बीकानेर। भारतीय जनता पार्टी बीकानेर देहात के जिलाध्यक्ष ताराचन्द सारस्वत ने श्रीडूंगरगढ़ विधानसभा के गांव माणकासर की जनसमस्या सुनी तथा ग्रामीणों ने बताया कि सरकार द्वारा घर खाली करने के नोटिस दिये जा रहे है। प्रशासन कह रहा है कि आप गोचर मे बसे हुए हो इसलिए यह मकान खाली करो। गाँव वालों का कहना है हमने लाखों रुपए खर्च करके मकान बनाये जिसमें बिजली का कनेक्शन लिया है। गाँव वालो ने अपने परिवार व बच्चों को आश्रय देने के लिए गांव में कच्चे पक्के कई मकान बना रखे है वर्तमान राजस्थान सरकार व प्रशासन द्वारा इन मजदूर किसानों को नोटिस देकर गांव को खाली करने के लिए कहा जा रहा है। इनकी न तो कोई मुआवजा की बात कर रह है न अन्य जगह रहने को जगह दे रहे है। जिलाध्यक्ष सारस्वत ने प्रशासन द्वारा नोटिस देने पर उपखंड प्रशासन और जिला प्रशासन को अवगत कराया और गरीब मजदूरों और किसानों के घर उजाडे न जाए उसके लिए कहा। अगर प्रशासन नहीं माना तो गांव के मजदूर किसानों के साथ कोरोना एडवाईजरी का पालन करते हुए जिला स्तर पर विरोध प्रदर्शन किया जायेगा। मणकरासर के गाव के 214 घरों को प्रशासन ने बेघर करने के लिए नोटिस दिए जिसमें प्रधानमंत्री आवास योजना एंव इंदिरा आवास योजना के तहत भी मकान बने हुए भी है। लेकिन फिर भी इनको नोटिस देकर बेघर करना कहां का न्याय है। उल्लेखनीय है कि पूर्व में भी इन गांवों को सैना द्वारा अवाप्त किया जा रहा था उस समय भी ताराचंद सारस्वत ने इन गांवों को बेघर होने से बचाया था इसकी चर्चा ग्रामीणों में सदैव होती रहती है ।आज अनेक ग्रामीणों ने पानी की समस्या की बात भी रखी ताराचंद सारस्वत ने जनता के बीच से ही उच्च अधिकारियों से मौके पर बात करके पानी की समस्या का निस्तारण करवाने का कहा जिसमें अधिकारियों ने समस्या का निवारण जल्द ही करने की बात कही ।