>



खुलासा न्यूज़, बीकानेर। गंगाशहर थाना क्षेत्र में नाबालिग लड़की व उसके परिजन आमने-सामने हो गए। लड़की परिजनों के खिलाफ बयान दे रही है और किसी के साथ जाने की बात से इनकार कर रही है। वहीं परिजन इस बात पर अड़े हुए है कि उनकी बेटी किसी लड़के के साथ गई गई थी, इसलिए मुकदमा दर्ज किया जाए। ऐसे में तीन चार-दिनों से पुलिस मुकदमा दर्ज नहीं कर पा रही है। इस संबंध में परिजनों ने एसपी प्रदीप मोहन शर्मा को भी शिकायत की है। फिलहाल पुलिस ने नाबालिग लड़की को नारी निकेतन भेज दिया है।

इनका कहना है :
जब नाबालिग कह रही है कि वह अकेले ही घर से गई क्योंकि परिजन उसकी शादी करना चाहते हैं वह भी ऐसे लड़के से जो उसे पसंद नहीं, तो ऐसी स्थिति में मुकदमा कैसे दर्ज करें।
– सुभाष बिजारणियां , थानाधिकारी, गंगाशहर

यह है पूरा मामला
बताया जा रहा है कि 28 की रात को नाबालिग घर से गायब हो गई। जो 29 दिसंबर की शाम अपने आप ही थाने पहुंच गई। जिसे पुलिस ने एक बार उसके भाई के साथ भेज दिया व 30 की सुबह आने को कहा। इसके बाद नाबालिग व उसके परिजनों की बात सुनी गई और जब मामला नहीं बैठा तो नाबालिग को नारी निकेतन भेज दिया गया। नाबालिग के परिजनों का कहना है कि उनकी बेटी किसी युवक के साथ भाग गई थी। वहीं परिजनों की मांग है कि बच्ची नाबालिग है इसलिए पुलिस अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज कर आरोपी को सामने लाए। तो पुलिस मामला दर्ज नहीं कर रही। इसकी शिकायत दो बार एसपी प्रदीप मोहन शर्मा को भी की गई। वहीं गंगाशहर थानाधिकारी सुभाष बिजारणियां का कहना है कि नाबालिग का कहना है कि वह किसी के साथ नहीं गई थी बल्कि अपने परिजनों के डर से भाग गई थी। नाबालिग का कहना है कि उसके परिजन ऐसे लड़के से उसकी सगाई पक्की कर चुके हैं जो उसे पसंद ही नहीं। इसके अलावा वह नाबालिग भी, पुलिस ने लड़की के नाबालिग होने की पुष्टि भी की है।