>


राजस्थान में सियासी उठापटक अभी थमा नहीं है. इस बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने फिर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने कहा कि सरकार गिराने का पूरा खेल बीजेपी ने रचा है. उनके नेताओं को जनता माफ नहीं करेगी.

वहीं, सीएम गहलोत ने अपने बागी विधायकों की ओर इशारा करते हुए कहा कि अगर किसी को नाराजगी है तो वो पार्टी आलाकमान, AICC के पास जाए, प्रदेश कांग्रेस कमेटी में आए. आप सभी कांग्रेस के हाथ के निशान पर जीतकर आए हैं. ऐसे में आपको सरकार के साथ आना चाहिए.

तंज भरे लहजे में गहलोत ने कहा कि विधानसभा सत्र की तारीख तय होने के बाद रेट बढ़ गया है. अनलिमिटेड रेट हो गया है. जिन लोगों ने पहली किस्त नहीं ली है, उन्हें वापस आना चाहिए. बीजेपी के नेता छिपकर दिल्ली जाते हैं, ईश्वर उन्हें सद्बुद्धि दे. गहलोत ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि इस साजिश में केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत नाम सामने आया, लेकिन अभी तक उनका इस्तीफ नहीं हुआ है. कांग्रेस राज में ऐसा करने वाले मंत्रियों का इस्तीफा हो जाता था. मैंने पूरे घटनाक्रम से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अवगत कराया है. सीएम ने कहा कि सत्र में क्या होना है ये बिजनेस एडवाइजरी कमेटी तय करेगी. बसपा विधायकों पर गहलोत ने कहा कि मायावती की शिकायत वाजिब नहीं है. चाहे जो भी परिस्थितियों हो मैं तनाव में नहीं रहता. मुझे गॉड गिफ्ट मिला है, हालात चाहे कैसे भी हों मैं सत्य के साथ रहता हूं.