>


खुलासा न्यूज़, बीकानेर। श्रीडूंगरगढ़ क्षेत्र के आम निवासियों के लिए नासुर बने होटलों के रूप में अवैध बार पर अंकुश लगने की उम्मीद सोमवार को कस्बेवासियों को हुई जब बीकानेर आबकारी थाना के विशेष दल ने यहां नेशनल हाईवे स्थित मूमल होटल पर दबीश दी। क्षेत्र के सामाजिक कार्यकर्ताओं द्वारा लंबे समय से पुलिस, प्रशासन एवं आबकारी विभाग के उच्चाधिकारियों को कस्बे एवं नेशनल हाईवे पर स्थित विभिन्न होटलों मे शाम होते ही अवैध रूप से बार संचालीत होने की कई शिकायतें बार बार की गई थी। ऐसे में कई शिकायतों के बाद सोमवार को आबकारी विभाग हकरत में तो आया लेकिन यहां भी पुरी कार्यवाही सार्वजनिक नहीं करने से हर कोई मामला सेट करने होने का अनुमान लगा रहा है। आबकारी टीम सोमवार शाम करीब छह बजे होटल पहुंची व तेज गति से गाड़ी रोक कर भागते हुए वर्दी पहने आबकारी पुलिस जवानों का होटल में घुसने ने आस पास सनसनी फैला दी व होटल के आस पास लोग एकत्र हो गए। आबकारी पुलिस ने होटल अंदर से बंद कर दिया एवं ना किसी को अंदर आने दिया व ना ही किसी को बाहर जाने दिया।

 

अंधेरा होने के बाद भी होटल की लाईटें भी नहीं जलाई गई। दो घंटे से भी अधिक समय तक होटल में रहने के बाद करीब 8.15 बजे आबकारी पुलिस के अधिकारी एवं जवान होटल से निकले एवं तेज गति से गाड़ी में बैठ कर रवाना हो गए। इस संबध में जानकारी प्राप्त करने का प्रयास भी किया गया लेकिन आबकारी कामिकों ने किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं दी व तेज गति से गाड़ी लेकर रवाना हो गए। ऐसे मे पुरे कस्बे में यही चर्चा फैल गई कि होटल पूर्व विधायक किशनाराम नाई को होने के कारण मामला सेट हो गया। हांलाकी यह होटल विधायक परिवार द्वारा लीज पर दिया हुआ है एवं संचालन में उनका हाथ नहीं है।

 

साभार:  श्रीडूंगरगढ़ टाइम्स