>


नई दिल्ली। सिर्फ 20-25 विधायकों के समर्थन से आप किसी राज्य के मुख्यमंत्री नहीं हो सकते हैं, यह कहना है वरिष्ठ कांग्रेसी नेता कपिल सिब्बल का। कपिल सिब्बल ने शुक्रवार को एक संवाददाता सम्मेलन में राजस्थान के सियासी संकट को लेकर सचिन पायलट पर सीधा निशाना साधा। इस दौरान सिब्बल ने सचिन पायलट से कहा, ‘आप जनता के सामने पार्टी का तमाशा नहीं बना सकते हैं।Ó सिब्बल ने सचिन पायलट द्वारा पॉर्टी से बगावत किए जाने पर जमकर ताने कसे। सिब्बल ने ये भी कहा, ‘मैं सचिन से पूछना चाहता हूं, क्या आप मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं? हमें बताएं? विरोध क्यों? अगर आप कहते हैं कि आप भारतीय जनता पार्टी में शामिल नहीं हो रहे हैं, तो आप हरियाणा में क्यों बैठे हैं? आप कांग्रेस की बैठकों में क्यों नहीं आए?
बता दें कि सचिन पायलट ने 18 अन्य विधायकों के समर्थन के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ बगावत की। कांग्रेस को विपक्ष की तुलना में काफी कम सीटों से बढ़त मिली हुई है। कांग्रेस के पास राजस्थान की 200 सदस्यीय विधानसभा में 101 के बहुमत के निशान से केवल दो ही विधायक अधिक हैं। टीम पायलट में 19 विधायक हैं और भाजपा के पास 72 हैं। छोटे दलों और स्वतंत्र सदस्यों को शामिल करते हुए, विपक्ष के पास इस समय कुल 97 विधायक हैं।< कांग्रेस ने शुक्रवार को कहा है कि वह राजस्थान उच्च न्यायालय के फैसले के बाद वह सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाएगी। राजस्थान हाईकोर्ट ने अपने फैसले में आदेश दिया है कि फिलहाल सचिन पायलट और पार्टी के बाकी नेताओं के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा सकती। इससे पहले गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट में जब कपिल सिब्बल ने राजस्थान विधानसभा के स्पीकर का बचाव करते हुए तर्क दिए, तब सर्वोच्च न्यायालय ने हाईकोर्ट को आदेश जारी करने से रोक लगाने पर इनकार करते हुए कहा कि लोकतंत्र में असंतोष की आवाज को दबाया नहीं जा सकता है।