>


खुलासा न्यूज़, बीकानेर। शहर में जगह जगह तैनात पुलिसकर्मियों को जिला प्रशासन के द्वारा किसी भी आदेश की पूरी जानकारी नहीं है। पुलिसकर्मियों को यह तक नहीं पता की बाजार कितने बजे खुलेगा और कितने बजे बंद होगा। वह अपने मोबाइल में मस्त रहते है उनको बाजार बंद है या नहीं कोई लेन- देन नहीं है। कुछ पुलिसकर्मी तो बाजार बंद होने के समय के बाद भी खुली दुकान के आगे खड़े रहते है। जब उनसे पूछा जाये कि बाजार बंद कब होता है तो उनका जबाब है ये सब एसएचओ से पूछा हमें इस बारे में जानकारी नहीं है। ऐसे ही मामला शुक्रवार शाम को देखा गया जहां कोतवाली थाना क्षेत्र के बड़ा बाजार क्षेत्र में काफी दुकाने खुली थी और दुकानों पर पांच से ज्यादा लोगों की भीड़ थी। इस पर जब मौके पर तैनात पुलिसकर्मी से पूछा गया कि बाजार कितने बजे बंद होता है तो वह अपने फोन में बिजी था और बोला कि मुझे नहीं पता है इस बारे में एसएचओ से पूछा। जब इस बारे में एसएचओ नवनीत सिंह से फोन पर पूछा गया कि बाजार बंद होने का समय कितना है तो उन्होंने कहा कि रात्रि आठ बजे बाजार बंद होने का समय है। जब मौके पर तैनात पुलिसकर्मी को यही नहीं पता है कि  सरकार के क्या आदेश है। पुलिसकर्मी सिर्फ सर्किल पर खड़े होकर अपनी ड्यूटी फोन पर बाते बाते करके समय पूरा करते है।

अक्सर बैठे रहते है आमजन
अक्सर देखा जाता है कि मौके पर तैनात पुलिसकर्मियों के पास आस पास आमजन बैठे रहते है। पुलिसकर्मी अपनी सुरक्षा को लेकर सचेत नहीं है अभी अगर देखा जाये तो बड़ा बाजार क्षेत्र में कोरोना के रोगी लगातार मिल रहे है और उस क्षेत्र में पुलिसकर्मियों की आमजन को पास लेकर बैठने उनके खुद के लिए कितना गंभीर है। क्या पता कौन व्यक्ति है जो संक्रमण लेकर आ जाए। लेकिन पुलिसकर्मी इस बात को  गंभीर नहीं है।