बीकानेर। राजस्थान एलीमेंट्री एंड सैकंडरी टीचर एसोसिएशन के प्रदेशाध्यक्ष मोहरसिंह सलावद ने राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं शिक्षा मंत्री गोविंदसिंह डोटासरा को ज्ञापन विशेष शिक्षा के लिए आयोजित वरिष्ठ अध्यापक भर्ती परीक्षा में ५० प्रतिशत पद रिक्त रहने के कारण वरीयता सूची जारी करने की मांग की है। सलावद ने ज्ञापन में बताया कि माध्यमिक शिक्षा विभाग में (विशेष शिक्षा) में वरिष्ठ अध्यापक का आरपीएससी की ओर से वर्ष २०१६ में ७ विषयों के २११ पदों का विज्ञापन जारी किया गया था। एवं इस परीक्षा में सफल अभ्यर्थियों को जिला आवंटन कर नियुक्ति दे दी गई । लेकिन सभी पद नहीं भरने से आरपीएससी ने दूसरी वरीयता सूची जारी की लेकिन योग्य नहीं मिलने से वर्तमान में ५० प्रतिशत पद रिक्त है। पद नहीं भरने का मुख्य कारण है कि ये भर्ती विशेष शिक्षा में बीएड वाले ही योग्य थे लेकिन सामान्य बीएड वाले छात्रों ने आवेदन कर दिया ओर उनका चयन हो गया था। इसलिए संघ की ओर से आपसे आग्रह है कि आरपीएससी की ओर से चार गुणा अभ्यर्थियों की एक वरीयता सूची जारी की जाए जिससे दस्तावेज जांच के समय इन पदों के लिए योग्य अभ्यर्थियों का चयन हो सके।जिससे राज्य भर के सरकारी स्कूलों में अध्ययनरत विशेष शिक्षा वाले बच्चों को अच्छी शिक्षा प्राप्त करने का अवसर मिल सके।