बीकानेर। जिले की बैंकों में जाली नोट जमा हुए है। जब इसे बारे में आरबीआई अधिकारियों को पता चला तो उनके होश उड़ गए । हुआ कुछ यूं कि जिले की दो बैंकों के कर्मचारियों ने आरबीआई को जाली नोट भेज दिए।    जिसके बाद जयपुर आरबीआई सहायक महाप्रबंधक ओमप्रकाश कविया पुत्र नाथुसिंह चारण ने गांधीनगर पुलिस थाने में अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है। बीकानेर जिले का नोडल थाना कोटगेट होने के कारण यह मुकदमा ऑनलाइन एफआईसार से कोटगेट पुलिस थाने में दर्ज हुआ है। जिसकी जांच एसआई सविता डाल कर रही है। सीआई धरम पूनिया से मिली जानकारी के अनुसार श्रीडूंगरगढ़ व नोखा में स्थित दो बैंकों से जुड़ा मामला है। जहां बैंकों ने 100-100 के 22 जाली नोट आरबीआई को जमा करवाने के लिए भेज दिए। जिनको आरबीआई ने पकड़ लिये। मजे की बात तो यह है कि इन दोनों बैंकों में यह जाली किसने और कब जमा करवाए इसका पता बैंक कर्मचारियों को भी लगा। बैंक कर्मचारियों की बड़ी गलती है कि है क्योंकि इस तरह कोई भी ग्राहक बैंकों में जाली नोट जमा करवाकर जा सकता है और कर्मचारियों को पता भी नहीं चलता। सीआई पूनिया के अनुसार इस तरह का मामला तीन माह पूर्व में भी दर्ज हुआ था, जिसमें 42 हजार के जाटी नोट आरबीआई ने पकड़े थे। फिलहाल पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की।