>


शहर के रानी बाजार इलाके में बंगाली मंदिर के पीछे रविवार की रात घर में घुसकर हमलेबाजी के बाद दो समुदाय के लोगों के बीच हुए झगड़े साम्प्रदायिक उन्माद भड़के की आंशका कायम हो गई थी,लेकिन कोटगेट पुलिस के थानाधिकारी धर्म पूनियां ने तत्परता दिखाते हुए हालातों को नियंत्रण में कर लिया। सोमवार को इलाके के लोगों ने बताया कि अगर कोटगेट पुलिस के थानाधिकारी धर्म पूनियां तत्परता नहीं दिखाते तो माहौल ज्यादा बिगड़ जाता।

खुलासा न्यूज़, बीकानेर। कोटगेट पुलिस थाना क्षेत्र में साइड को लेकर बीती रात को दो समुदाय के लोगों के बीच झगड़ा हो गया। मामूली बात को लेकर हुए इस झगड़े में एक पक्ष के लोग दूसरे पक्ष के लोगों घर में घुसकर हमला बोल दिया। मारपीट में एक व्यक्ति के सिर में गम्भीर चोट आई। मौके पर कोटगेट सीआई धरम पूनिया मय जाब्ते के साथ घटना स्थल पहुंचे। पूनिया से मिली जानकारी के अनुसार रोड़ साइड को लेकर लोगों के बीच झगड़ा हो गया। जिसके बाद एक पक्ष के 10-15 लड़के बाइको पर सवार होकर आए और दूसरे पक्ष के व्यक्ति के घर में घुसकर मारपीट की। इस घटना से इलाके के लोगों का आक्रोश भड़क गया और मौके माहौल संवेदनशील होने की सूचना मिलने के सीओ सिटी सुभाष शर्मा,सीआई कोटगेट धरप पूनिया जाब्ता लेकर पहुंच गये और एतिहात के तौर पर नया शहर सीआई ईश्वर प्रसाद जांगिड़ तथा कोतवाली एसएचओं राजकुमार को जाब्ता लेकर बुला लिया इसके अलावा आरएएस भी तैनात कर दी गई। संवेदनशील माहौल के पुलिस छावनी में तब्दील हुई इलाके के लोग पूरी रात दशहत में रहे। लोगों ने बताया कि एक-दो बार पहले भी इन बदमाशों ने इलाके में दशहत फैलाई थी। सीओं सिटी सुभाष शर्मा ने बताया कि रात को समझाई के बाद माहौल शांत हो गया लेकिन एतिहात के तौर पर इलाके में पुलिस और आरएसी का जाब्ता तैनात किया गया है।

हमलावरों के खिलाफ नामजद केस दर्ज
बंगाली मंदिर के पीछे हुई हमलेबाजी और उन्माद की घटना के संबंध में कोटगेट पुलिस ने 60 वर्षीय भीखाराम विश्रोई ने रिपोर्ट पर इरफान, जिब्रान,हैदर,बाबर,लियाकत अली व अन्य जनों के खिलाफ घर में घुसकर परिवार के लोगों पर हमलेबाजी तथा महिला के गले से सोने की चैन तोड़ ले जाने का केस दर्ज किया है।
जालूराम ने रिपोर्ट में बताया कि रात करीब सवा दस बजे हम घर परिवार के लोग टीवी पर भारत-पाकिस्तान के बीच क्रिकेट मैच देख रहे थे,तभी लाठिया,सरिये और धारदार हथियारों से लैश होकर घर में घुसे आरोपियों ने हमलाकर दिया। पुलिस के अनुसार हमलेबाजी में जालूराम और उसके लड़के सहीराम समेत तीन जनों के चोटे आई है। सीओ सिटी सुभाष शर्मा ने बताया कि वारदात में लिप्त मुलजिमों की गिरफ्तारी के लिये उनके घरों और ठिकानों पर दबिश दी जा रही है। फिलहाल एक भी हमलावार पुलिस के हत्थे नहीं चढा है।

आग की तरह फैल गई अफवाह
रानी बाजार इलाके में बंगाली मंदिर के पीछे मामूली विवाद के बाद घर में घुसकर हमलेबाजी की इस वारदात को लेकर सोशल मीडिया पर आग की तरफ फैली अफवाहों के कारण माहौल ज्यादा संवेदनशील हो गया,अफवाह फैली थी कि क्रिकेट मैच में भारत के हाथों पाकिस्तान की करारी हार से आक्रोशित समुदाय विशेष के लोगों ने रानी बाजार में उन्माद फैला दिया और घरों में घुसकर लोगों पर हमला कर रहे है,इसके अलावा मौके पर फायरिंग की अफवाह भी आग की तरह फैली हुई थी। जबकि स्थानीय लोगों का कहना था कि एक बार तो माहौल संवेदनशील हो गया था और दोनों पक्षों के लोग आमने-सामने हो गये थे लेकिन पुलिस ने माहौल को नियंत्रण में कर लिया।