>


खुलासा न्यूज़, बीकानेर। 16 जून की रात्रि को साइड को लेकर हुए विवाद को लेकर घर में घुसकर जानलेवा हमला करने के मामले में विश्व हिन्दू परिषद द्वारा पुलिस प्रशासन को अल्टीमेट देने के बाद पुलिस ने आज दो हमलावरों को गिरफ्तार किया है। यह कार्यवाही उप निरीक्षक महावीर प्रसाद द्वारा की गई। पुलिस दोनों आरोपी हैदर अली व लियाकत अली को कल न्यायालय में पेश करेगी। पुलिस का कहना है कि अन्य आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तार किया जाएगा फिलहाल तलाशी जारी है।

यह है पूरा मामला
जिला कलक्टर को दिए ज्ञापन में बताया कि रानी बाजार, चौपड़ा कटला निवासी जालुराम पुत्र भीखाराम बिश्नोई 16 जून की रात को ग्यारह बजे अपने घर में सो रहा था। रात को 11:20 बजे आरोपी इरफान, जीवान हैदर, उमर बाबर, लियाकत निवासी घड़सीसर एवं इस्लाम भाटी निवासी बांद्रा बास व अन्य 50-60 आरोपी जालुराम के घर में घुसकर परिवार के साथ लाठी, सरिया व तलवार से मारपीट की। जालुराम की पुत्री के गले से चैन तोड़कर ली व पुत्र महीराम के सिर में गंभीर चोट मारी, जिसको गंभीर अवस्था में ट्रोमा सेंटर में भर्ती करवाया, जिसकी हालत नाजुक बनी हुई है। जालुराम के पत्नी के पांव में सरिये से चोट मारी।
ज्ञापन में बताया कि इस घटना का शोर-शराब सुनकर मौहल्ले के लोग आ पहुंचे, जिन्होंने आरोपियों को मौके पर पकड़ लिया व पुलिस को सूचना की तथा मौके पर पहुंंची पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस द्वारा अकार्यकुशलता का परिचय देते हुए इन सभी आरोपियों को छोड़ दिया। ज्ञापन में बताया कि सभी आरोपी अपराधिक प्रवृति के लोग है तथा आये दिन मोहल्ले में गुंडागर्दी करते रहते है।

ज्ञापन में बताया कि आरोपियों द्वारा कारित की गई घटना से व पुलिस द्वारा आरोपियों को घटना के तुरंत बाद छोड़ देने से मोहल्ले में जबरदस्त तनाव की स्थिति बनी हुई है तथा किसी भी समय अप्रिय घटना घटित होने की संभावना है। पुलिस द्वारा जानबुझकर आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया जा रहा है तथा परिवादी पर आरोपियों द्वारा जबरन राजीनामें का दबाव डाला जा रहा है तथा राजीनामा न करने की सूरत में जान से मार देने की धमकी दी जा रही है। आरोपी पूरे मोहल्ले में घुम-घुमकर दहशत का माहौल पैदा कर रहे है जिससे पूरे मोहल्ले में डर का माहौल बना हुआ है। जिससे परिवादी, उसका परिवार व मौहल्लेवासी सदमें है तथा परिवादी व उसके परिवार को आरोपियों से जान का खतरा है।

पुलिस प्रशासन को दिया अल्टीमेटम
ज्ञापन में बताया कि इस प्रकरण में आरोपियों के विरूद्ध धारा 307 व 458 आईपीसी जोड़ी जाकर अनुसंधान किया जाए व आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किया जाए।
प्रदर्शनकारियों ने चेतावनी देते हुए बताया कि अगर आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार नहीं किया गया तो उग्र प्रदर्शन किया जाएगा, जिसकी जिम्मेवारी जिला प्रशासन की होगी। प्रदर्शन करने वालों में परिवादी जालुराम, बजरंग दल के दुर्गासिंह शेखावत, हिन्दू जागरण मंच के प्रांत संयोजक  जेठानंद व्यास, महेन्द्र ढाका सहित अनेक लोग शामिल थे।