>



बीकानेर। नगर निगम के निर्दलीय पार्षद नंद किशोर गहलोत की गिरफ्तारी को लेकर अब राजनीति गर्माने लगी है। इस मामले को लेकर भाजपा-कांग्रेस सहित निर्दलीय पार्षद लामबद्व होने लगे है और बिजली कंपनी के नादरशाही रवैये के खिलाफ जिला पुलिस अधीक्षक से मिलकर ज्ञापन सौंपा। ज्ञापन में अवगत कराया गया है कि जनप्रतिनिधि का काम है,आमजन की समस्याओं को प्राथमिकता से उठाना। निर्दलीय पार्षद नंदकिशोर गहलोत ने भी लोकतांत्रिक तरीके से बिजली के बिलों की गड़बड़ी,बिजली कं पनी के कार्मिकों की तानाशाही के खिलाफ आवाज बुलंद की।

जिसको लेकर बिजली कंपनी ने नंदकिशोर के खिलाफ झूठा मामला दर्ज करवाया। समझौते के बाद भी धोखाधड़ी से मामला दर्ज कर कानूनी कार्यवाही की गई। जो न्यायसंगत नहीं है। अगर इस झूठे मुकद्दमें को उठाकर पार्षद के मानहानि को वापस नहीं लौटाया गया तो पार्षद आन्दोलन करेंगे। इस मौके पर उप महापौर राजेन्द्र पंवार,रमजान कच्छावा,शांतिलाल मोदी,दुलीचन्द शर्मा,मनोज नायक,विनोद धवल,वसीम फिरोज,प्रदीप उपाध्याय, अनुप भाटी,सुशील सुथार,मनोज विशनोई,प्रफुल्ल हटीला ,शहजाद खान,पारस मारू,विकास सियाग के साथ साथ पूर्व पार्षद हजारी देवड़ा एवं पार्षद प्रतिनिधि के रूप में सुभाष स्वामी,भगवान सिह मेड़तिया,ताहिर हसन,अब्दुल सतार,युनूस अली,मनोज जनागल मौजूद रहे।