बीकानेर। नगर निगम का वित्तीय वर्ष 2020- 21 का प्रस्तावित बजट मंगलवार को पेश किया गया। निगम महापौर सुशीला कंवर सुबह 11. 30 बजे साधारण सभा में 373 करोड 13 लाख 30 रुपए का प्रस्तावित बजट पेश किया। यह बजट वित्तीय वर्ष 2019 – 20 के प्रस्तावित 282 करोड़ 34 लाख 50 हजार रुपए के बजट से करीब 91 करोड़ रुपए अधिक है। इस बजट में 167 करोड़ रुपए अनावर्तक व्यय का अनुमान रखा गया है। वहीं निगम कर्मचारियों के वेतन और भत्तों पर 109 करोड रुपए खर्च होने का अनुमान रखा गया है। प्रस्तावित बजट में 59 करोड रुपए करो से आय, 10 करोड रुपए भूमि विक्रय से आय तथा 7. 5 करोड़ रुपए नियमों-अधिनियमों से आय का अनुमान रखा गया है। वहीं महापौर बजट अभिभाषण में प्रत्येक वार्ड में विकास कार्यो के लिए समान राशि आंवटन की घोषणा की गई।
नगर निगम की साधारण सभा में पहुंचे राज्य के ऊर्जा मंत्री डॉ बीडी कल्ला ने हंगामे को देख पक्ष और विपक्ष के पार्षदों को अनुशासन का पाठ पढ़ाया। उन्होंने कहा कि शहर के विकास के लिए पक्ष और विपक्ष सभी पार्षद एकजुट होकर और एकमत होकर प्रयास करें उन्होंने कहा कि प्रजातंत्र में पक्ष और विपक्ष एक दूसरे का सम्मान करें सकारात्मक सोच के साथ शहर के विकास के लिए प्रयास करें।
नगर निगम महापौर पहली बार लाल बस्ते में प्रस्तावित बजट के दस्तावेज लेकर निगम पहुंची। लाल रंग के मखमल से बने बस्ते में प्रस्तावित बजट सहित बजट अभिभाषण के दस्तावेज रख कर बस्ते को मोली के रंग के धागे से लपेटकर बांधा गया था। इस बस्ते को महापौर साधारण सभा में लेकर पहुंची व बजट पेश किया।
हंगामे के बीच बजट पारित
नगर निगम के वित्तीय वर्ष 2020 21 के प्रस्तावित बजट को महापौर ने पेश किया ।373 करोड़ के इस बजट पर पक्ष और विपक्ष के पार्षदों में चर्चा हुई। चर्चा के दौरान ही पक्ष और विपक्ष के पार्षदों ने विकास कार्यों को लेकर एक दूसरे पर आरोप लगाया और कई बार हंगामे की स्थिति अभी बनी। जिसको मंत्री डॉ. कल्ला ने समझाइस कर शांत करवा दिया।
बजट प्रस्ताव की फाड़ी प्रतियां
साधारण सभा के दौरान कांग्रेस पार्षदों ने महज आंकड़ो का मायाजाल बताया और विरोध प्रदर्शित किया। हंगामे के बीच कांग्रेस के कुछ पार्षदों ने बजट प्रस्ताव की प्रतियों को फाड़कर हवा में उछाला। इस हंगामे के बीच निगम का प्रस्तावित बजट पारित किया गया।