– सूरतगढ़ पीजी कॉलेज प्रशासन की अनियमितता को लेकर स्टूडेंट एकजुट
बीकानेर संभाग। सूरतगढ़ पीजी कॉलेज में चल रही अनियमितताओं के विरूद्ध छात्र अध्यापक हरीश सारण का अनशन तीसरे दिन भी जारी रहा। कॉलेज के विरूद्ध में छात्र अध्यापक एकजुट हो गए है, जिससे कॉलेज प्रशासन में हड़कंप सा मच गया है। कॉलेज के प्रबंधक प्रवीण अरोड़ा द्वारा छात्रों पर दबाव बनाकर उनसे लिखवाया जा रहा है कि हम कॉलेज प्रशासन से संतुष्ट हैं और यहां पर किसी प्रकार की अनियमितता नहीं बरती जा रही है । छात्र अध्यापकों का आरोप है कि कॉलेज प्रबंध समिति के संचालक परवीन अरोड़ा राजकुमार गर्ग वरुण गर्ग आचार्य विद्यासागर शर्मा एवं उप प्राचार्य नारायण चंपा द्वारा छात्र अध्यापकों को डराया जा रहा है कि अगर आप अनशन पर बैठे छात्र हरीश सारण का सहयोग करोगे तो आपकी भी टीसी काट दी जाएगी या कम उपस्थिति दर्शाकर आपको परीक्षा से वंचित कर दिया जाएगा या कम अंक देकर आप को फेल कर दिया जाएगा। इस संबंध में छात्र अध्यापकों ने मंत्री भंवरसिंह भाटी, डिप्टी सीएम सचिन पायलट, सीएम अशोक गहलोत को ज्ञापन भेजकर कॉलेज की मान्यता रद्द करने और निदेशक प्रवीण अरोड़ा के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने की मांग की है। ऐसे में यह मामला अब सीएम अशोक गहलोत के पास पहुंच गया है।