बीकानेर। शहर की नामी कोचिंग क्लाासेज के अध्यापकों ने बच्चों के साथ धोखाधड़ी करते हुए अपना कोचिंग क्लासेज बंद कर बीकानेर शहर छोड़कर भाग गये जब बच्चों ने दूसरी जगह जोधपुर में पता किया तो वहीं से भी वह क्लासेज बंद कर भाग गये हम बात कर रहे अर्जुन क्लासेज की जो सरकरी नौकरी लगाने की बडी- बड़ी गारंट दे रहा था। लेकिन रुपये एकत्रित कर भाग गये है। जानकारी के अनुसार लूणकरनसर तहसील की ग्राम पंचायत रोझा निवासी विष्णु बिश्नोई पुत्र कालुराम बिश्नोई का आरोप है कि पंचशती सर्किल, सादुलगंज स्थित अर्जुन क्लासेज के टीचर नरेन्द्र चौधरी, सीमा चौधरी, डूंगरदान, मदनलाल चौधरी व जयराम चौधरी ने मिलीभगत कर उसे कांस्टेबल भर्ती परीक्षा में गारंटी से सरकारी नौकरी लगाने का झांसा देकर दो किस्तों में 85 हजार रुपए ले लिए। जिसकी रसीद भी परिवादी दी गई। उसके बाद परिवादी पढ़ाई करने के लिए अर्जुन क्लासेज जाने लगा। परिवादी का आरोप है कि परीक्षा होने से पहले इन लोगों ने क्लासेज को लगाना बंद कर दिया। जिस पर परिवादी अभियुक्तगणों के पास गया और पैसे वापिस मांगे तो अभियुक्तगण टालमटोल करने लगे। परिवादी का आरोप है इन लोगों ने गारंटी से सरकारी नौकरी लगाने का बोलकर स्टांप पर लिखकर दिया। इस स्टांप पर सीमा चौधरी के हस्ताक्षर भी है। परिवादी का आरोप है कि इन लोगों ने क्लासेज बंद कर फरार होने के बाद जोधपुर ऑफिस पता किया, लेकिन वहां से भी ये लोग फरार हो गए। परिवादी का आरोप है इन लोगों ने सरकारी नौकरी का प्रलोभन देकर उसके अलावा कई अभ्यर्थियों से मोटी फीस लेकर लाखों रुपए की ठगी कर यहां से फरार हो गए। पुलिस ने परिवादी की रिपोर्ट पर अभियुक्तगणों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की।