>


जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि अब कोर्ट के फैसले का हम सबको इंतजार है। मैं न्यायपालिका का बहुत सम्मान करता हूं। हमें उम्मीद है कि न्याय मिलेगा। होटल फेयर माउंट के बाहर जाते समय सीएम अशोक गहलोत ने आज मीडिया से बातचीत में कहा कि विधानसभा का सत्र भी जल्द बुलाया जाएगा। इसमें कोराना पर भी चर्चा करेंगे और राजनीतिक बातें भी होगी। गहलोत ने कहा कि कोरोना में हमने शानदार काम किया। ये लोग सरकार गिराने में जुटे हैं। गहलोत ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को को पत्र लिखने के सवाल पर कहा कि यह इसलिए लिखा है कि ये बातें रिकार्ड पर आ जाए। पत्र में मैने सारी बातें लिख दी जिससे कि उन्हें सारी बातों की जानकारी मिलें और वे यह नहीं कह पाए कि मुझे पता नहीं था। गहलोत ने यह भी कहा कि कांग्रेस के विधायकों को बंधक बना कर रखा है। केन्द्रीय मंत्री गजेन्द्र सिंह शेखावत की उसमें आवाज है यह सब जानते है और पहचानते भी है। आप चाहों तो अमरीका की सबसे बड़ी एजेंसी से जांच करा लो। उन्होंने कहा कि ऑडियो टेप आया है। वॉइस टेस्ट क्यों नहीं करा लेते। गहलोत ने कहा कि सभी कांग्रेसी विधायक एकजुट है। हमारे पास पूरा बहुमत है।
<श्च>केंद्र सरकार के इशारे पर ईडी काम कर रही है। आज लोकतंत्र खतरे में है। भाजपा के सिद्धांत देश के लिए खतरा बन गए है और देश को बर्बाद कर रहे है। कांग्रेस की मजबूती तो देश की मजबूती है। कोरोना संकट में बीजेपी सरकार गिराने की कोशिश में लगी है। जबकि सबको कोरोना संकट से मिलकर निपटना चाहिए।
<श्च>इन छापों से हम घबराने वाले नहीं है। हमारा मिशन इससे रुकने वाला नहीं है। ईडी की कार्रवाई हो या इनकम टैक्स की हो या फिर सीबीआई की,सबको मालूम हैं किसके इशारे पर काम कर रही है। धमकी देने से कुछ नहीं होगा मैं जिंदगी में सच्चाई पर चला हूं। सरकार गिराने की कोशिश करने वालों को देश और प्रदेश की जनता माफ नहीं करेगी।