खुलासा न्यूज, बीकानेर। सावन के पहले दिन बादलों ने तपती धरती पर रहम बरसाया और कई गांवों में बादल जमकर बरसे जिससे किसानों की उम्मीदें भी जागी। आज श्रीडूंरगढ़ कस्बे सहित गुसाईंसर, लोढरा, मणकरासर, बिंझासर, जैतासर, तोलियासर, मोमासर में बादल मेहरबान हुए है। गुसाईंसर के राकेश ने बताया कि गांव की चारों कांकड़ में 15 अंगुल से अधिक बरसात होने की सूचना है। रणवीरसिंह ने बताया कि गांव कोटासर में भी अच्छी बारिश हुई है।वहीं अभी भी बीकानेर शहर में बारिश का इंतजार बरकरार है। मौसम विभाग के मुताबिक सावन के पहले सोमवर यानि कल बारिश की संभावना जताई है।

बीकानेर-जोधपुर संभाग में अगले दो दिन होगी बारिश
बीकानेर और जोधपुर संभाग में बारिश 26-27 जुलाई को होने के आसार है। पिछले 24 घंटों में प्रतापगढ़, झालावाड़, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर और बांसवाड़ा जिलों में कहीं-कहीं भारी से अति भारी बारिश दर्ज हुई है। पूर्वी राजस्थान में सर्वाधिक अधिकतम बारिश 165 मिमी प्रतापगढ़ जिले के पीपलखूंट तहसील में हुई। बात पश्चिमी राजस्थान की करें तो सर्वाधिक बारिश बाड़मेर जिले के 36 मिमी समदड़ी क्षेत्र में दर्ज की गई।

मानसून की बात करें तो वर्तमान में कम दबाव का क्षेत्र मध्यप्रदेश के उत्तरी भागों के ऊपर स्थित है। मानसून Trough line आज बीकानेर, अजमेर व कम दबाव के एरिया वाले केंद्रों से होकर गुजर रही है। उत्तर पश्चिमी राजस्थान के ऊपर एक परिसंचरण तंत्र (circulatory system) भी वायुमंडल के निचले स्तरों में बना हुआ है।