>


महेश कुमार देरासरी
महाजन। कस्बे में रविवार को मारपीट में घायल युवक की मौत को लेकर आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर थाने के आगे प्रदर्शन करने के मामले में 34 नामजद व 50 अन्य लोगों पर मामला दर्ज किया है। पुलिस ने कोरोना माहमारी एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है। थानाधिकारी ईश्वरसिंह ने बताया कि 15 जून को दो आरोपियों द्वारा एक युवक हनीफ खान की हत्या करने के मामले को लेकर कोरोना काल में प्रदर्शन करने व सरकारी निर्देशों की अवहेलना करने साथ ही धार्मिक उन्माद फैलाने का मामला दर्ज किया है।
महाजन थानाधिकारी ने बताया कि हनीफ खान हत्या प्रकरण में रविवार शाम को शव महाजन थाने के आगे पहुंचने के बाद थाने के आगे काफी भीड़ इक्क्ठा हो गई। जिसको महाजन निवासी अजमल हुसैन ने भीड़ आक्रोशित कर हत्या के आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग करने के लिए आरोपियों की गिरफ्तारी होने के बाद ही शव के अंतिम संस्कार करने पर भीड़ को उकसाया। जिसको लेकर पुलिस प्रशासन व महाजन उप तहसील के नायब तहसीलदार महावीर प्रसाद मीणा द्वारा भी बार-बार समझाई करने के बाद भी नही माने । मृतक के भाई शेर खान द्वारा भी इस प्रदर्शन का विरोध करने पर उसे चुप कर दिया। अजमल हुसैन ने धार्मिक उन्माद फैलाने की बात करने व भीड़ बढ़ाने का काम किया ।कोरोना काल में बिना परमिशन प्रदर्शन कर लोगों के स्वास्थ्य को खतरे में डालने का काम भी किया गया । कोविड-19 को लेकर सरकार द्वारा जारी निर्देशों के बीच जमकर धज्जियां उड़ाई गई। पुलिस ने इसको लेकर धार्मिक उन्माद फैलाने, कोरोना काल में सरकारी निर्देशों की अवहेलना करना, आमजन के स्वास्थ्य को संकट में डालने के अलावा राजस्थान आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू की । इस मामले में 34 नामजद लोग व 50 -60 अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ। जिसमें जुल्फीकार ,हुसैन खान, अली शेर , शौकी खान,अजीज खान, फिरोज खान, फलकशेर, श्योकत खान,गणेश स्वामी ,नेक मोहम्मद ,साजिद खान आमिर खान सलीम खान सुखी खान कालू खान अल्लादीन सद्दाम खान, ज्यानु खान सहित 34 नामजद लोगों के खिलाफ मामला दर्ज हुआ। पुलिस मामले की जांच पड़ताल कर रही है।