अरविंद सिंह शेखावत होंगे नये थानानाधिकारी नोखा

खुलासा न्यूज़, बीकानेर। पेट्रोल फेंक जीप में आग लगाने वाले घटनाक्रम में अभी-अभी नोखा थाने के सीआई भगवान सहाय मीणा को लाईन हाजिर किया है। यह आदेश पुलिस अधीक्षक प्रदीप मोहन शर्मा ने दिए है। खुलसा न्यूज़ से बातचीत में एसपी प्रदीप मोहन शर्मा ने बताया कि इतना बड़ा घटनाक्रम होने के बाद सीआई भगवान सहाय मीणा देरी से पहुंचे और लापरवाही बरती। यह जांच में सामने आने के बाद सीआई को लाइन हाजिर किया है। साथ ही उन्होंने बतया कि कोई ओर पुलिसकर्मी है सम्पर्क में जांच होगी। आरोपियों को भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।  बता दें कि आज दुपहर को झुलसे युवक ने पीबीएम अस्पताल में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। वहीं एक युवक की हालत गंभीर बताई जा रही है। इस प्रकरण में अभी तक पुलिस अपराधियों के गिरफ्तार करने में नाकाम रही है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आरोपियों की धरपकड़ के लिए तीन टीमें गठित रखी है। जल्द ही अपराधियों को पकड़ लिया जाएगा।

यह है पूरा मामला
बोलेरो कैम्पर में सवार चार जनों पर जानलेवा हमला करने के आरोप में नोखा पुलिस थाने में प्राथमिकी दर्ज की गई है। ड्यूटी अधिकारी सुेरश यादव ने बताया कि परिवादी विकास ने सुरेन्द्र बिश्नोई, गोविंददान, राहुल, रेवंत सिंह व सात आठ अन्य के विरू8 जानलेवा हमले का मामला दर्ज कराया है। प्राथमिकी के अनुसार विकास, पृथ्वीसिंह, शांतिलाल बोथरा और अजीत सिंह सोमानी हॉस्पीटल जा रहे थे। ओमप्रकाश कोठारी के घर के सामने पहुंचे तो एक अन्य बोलेरो कैम्पर में सवार आरोपियों ने घेर लिया। गाड़ी में टक्ककर मारी और बोतलों में भरा पेट्रोल छिड़कर आग लगा दी। किसी प्रकार बाहर निकले। शांतिलाल व अजीत बुरी तरह झुलस गए। विकास के भी चोटें आई है।