>



बीकानेर। एक ओर राज्य सरकार निजी स्कूलों में फीस पर नियंत्रण लाने और शिक्षा के व्यवसायी करण पर रोक लगाने के लाख जतन कर रही है। लेकिन आज भी निजी स्कूल मनमानी करने से नही चूक रहे हैं। हालत ये है सीबीएसई पैटर्न के स्कूलों में अब भी अभिभावकों की जेब पर डाका डालकर उनको लूट रहे हैं। जिसको लेकर एक अभिभावक ने जिला कलक्टर को ज्ञापन सौपा। अभिभावक ने ज्ञापन देकर जताया कि सरकारी आदेशानुसार स्कूलों की पुस्तकों की लिस्ट पब्लिकेशन सहित दो माह पहले अपने स्कूल की अधिकृत वेबसाइट पर व नोटिस बोर्ड पर चिपकाए जिससे अभिभावक पुस्तकें किसी भी दुकान से ले सकें। जिससे अभिभावकों को पुस्तकों में अधिकतम छूट पर पुस्तके मिल सके। सभी सीबीएसई व अन्य प्राइवेट स्कूलों की पुस्तकें स्कूल की मनमर्जी से एक ही दुकान में मिलने पर सख्त कार्यवाही की जाए।