>



खुलासा न्यूज़, बीकानेर।  भारतीय जनता पार्टी के नेताओ ने  सरकार के मंत्री बीड़ी कल्ला द्वारा अंबेडकर भवन के लोकार्पण को जल्दबाजी में किये  गए एक उद्घाटन शो मात्र बताया है। भारतीय जनता पार्टी के अध्य्क्ष अखिलेश प्रताप सिंह, पूर्व अध्य्क्ष सत्यप्रकाश आचार्य, महामंत्री मोहन सुराणा दाऊलाल हर्ष, जिला उपाध्यक्ष  सुरेश शर्मा, गोविंद सिंह,पाबुदान सिंह, अशोक प्रजापत ने संयुक्त बयान जारी कर कहा कि, अम्बेडकर भवन पूर्व मुख्यमंत्री   वसुंधरा राजे द्वारा बजट घोषणा की बीकानेर के दलित समाज के लिए एक अनुपम भेंट है। जिसे नगर विकास न्यास द्वारा  प्राथमिकता के साथ बनवाने की स्वीकृति जारी की थी। लगभग 2.60 करोड़ की लागत से समस्त सुविधाओ से सुसज्जित  स्टेट ऑफ आर्ट स्तर का  देश के महान दलित नेता और संविधान के निर्माता डॉ भीमराव आंबेडकर को समर्पित भवन है। भाजपा नेताओं ने  कल्ला जी जल्दबाजी में भवन के उदघाटन के औचित्य पर भी प्रश्न खड़ा करते हुए कहा कि बीकानेर में दलित समाज के सांसद अर्जुन राम मेघवाल, क्षेत्रीय विधयक  सिद्धि कुमारी, महापौर सुशीला कंवर, पूर्व न्यास अध्य्क्ष जैसे जनप्रतिनिधियों  समेत किसी भी दलित नेता को इस कार्यक्रम के लिए नही आमंत्रित करना जल्दबाजी नही तो और क्या है। कॉंग्रेस भवन निर्माण का श्रेय लेना चाहती है, जो भा. जा .पा नही लेने देगी।  इन नेताओं का कहना है कि बाबा साहब अम्बेडकर जयंती का अवसर सर्वाधिक उपयुक्त था जो कुछ दिनों बाद ही है।  नेताओ ने कहा कि भूमि पुजन के समय सभी राजनैतिक दलों के दलित समाज के प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया गया था संयुक्त वक्तव्य में प्रसाशन द्वारा स्थानीय सांसद, विधयाक एवम दलित प्रतिनिधियों की अनदेखी करने पर सवाल खड़े किए है।  भा जा पा नेताओ ने कहा है कल्ला जी अभी तक भी पूर्व सरकार के कार्यकाल में हुए विकास कार्यो के ही उद्घाटन करते फिर रहे है। जबकि वर्तमान सरकार के डेढ़ वर्ष पूरे होने आए है कोई भी उपलब्धि नही है। हाल ही के बजट में मात्र 7 करोड़ रुपये सड़को को बनाने के लिए मिले है जो ऊंट के मुंह मे जीरा मात्र है। जबकि बीकानेर शहर की सड़कें पूरी तरह से टूटी और उधड़ी पड़ी है, चलना दूभर है, रेलवे फाटक की समस्या के समाधान में मंत्री को अभी तक विफलता ही हाथ लगी है जिसके लिए वे अब केंद्र सरकार पर ठीकरा फोड़ने की कोशिश कर रहे है।