खुलासा न्यूज़ की अपील: परिजन बच्चों को समझाए कि कभी ना करें शरारत
खुलासा न्यूज़, बीकानेर। दो बच्चों की शरारत बहुत महंगी साबित हुई। नोखा के लखारा चौक रहने वाले दो भाई नागौर रोड पर नर्सरी से पौधे लेने जा रहे थे। इस दौरान मार्ग के किनारे रेलवे पटरियां भी हैं।

दोनों बच्चे चलते चलते लाइन के पास पड़े ग्रिट के पत्थर इधर-उधर फेंकने लगे। इसी दौरान एक पत्थर रेलवे पटरी के जॉइंट में जा फंसा। जिससे ट्रेक लाइन का सिग्नल सिस्टम फेल हो गया था।

बताया जा रहा है कि सिस्टम फेल होते ही रूट पर आ रही बठिंडा-जोधपुर पैसेंजर ट्रेन को वहीं रूकना पड़ गया। रेलवे कर्मचारी फाल्ट ढूंढते-ढूंढते वहां तक पहुंचे तो उनकी नजर वहां से निकल रहे बच्चों पर पड़ गई।

बच्चों से पूछने पर उन्होंने पत्थर फेंकने की बात कबूल की। दोनों बच्चों को इस शरारत पर रेलवे स्टेशन लाया गया तथा उनकी इस नादानी पर आगे से शरारत नहीं करने की बात कहकर छोड़ा गया।