हनुमानगढ़ (नोहर)

कस्बे के वार्ड तेईस में व्यापारी अशोक मोदी के घर लूट के मामले में गुरुवार को एक और आरोपी पुलिस के हत्थे चढ़ा। यह पहले पकड़े गए दोनों आरोपियों का दाेस्त है और पूरी वारदात की प्लानिंग इसी ने की थी। इसी ने आरोपियों को लूट के लिए इलाके के कुछ घर चिन्हित करवाए और उसके बाद वारदात को अंजाम दिया।

जिस दिन आरोपियों ने लूट की यह वादरात की, उस दिन यह तीसरा आरोपी उनके साथ तो नहीं था लेकिन वारदात को अंजाम देने में उसने सहयेाग किया। पुलिस ने दो आरोपियों से पूछताछ के बाद गुरुवार को तीसरे आरोपी को भी धर दबोचा।

कर्ज में दबा था तीसरा आरोपी
इस मामले में गिरफ्तार तीसरा आरोपी वार्ड 22 निवासी सुमित ( 28 ) पुत्र शंकरलाल शर्मा इन दाेनाें का दोस्त है और वह भी कर्ज में डुूबा हुआ है।थाना प्रभारी रविंद्रसिंह नरूका ने बताया कि सुमित लूट कि घटना के समय तो मौजूद नही था। मगर लूट कि योजना बनाने और वारदात में सहयोग करने में सुमित कि भागीदारी सामने आई है।

थाना प्रभारी ने बताया कि सुमित गिरफ्तार किए दोनों युवकों का दोस्त है। व्यापारी का मकान चिन्हित कराने व वारदात को अंजाम देने की योजना बनाने में सुमित शामिल था। घटना वाले दिन सुमित के परिवार में शादी होने के कारण वह वारदात में शामिल नही हुआ। सुमित पर भी कर्ज होने के कारण उसे रुपए की आवश्यकता थी। व्यापारी अशोक मोदी के अलावा अन्य एक-दो व्यापारियों के मकान भी सुमित ने चिन्हित करवाए थे।

बीस दिन पहले हुई थी लूट की वारदात
कस्बे के वार्ड तेईस स्थित व्यापारी अशोक मोदी के मकान में 14 जुलाई को दो आरोपियों ने लूट की वारदात काे अंजाम दिया था। इस मामले में पुलिस ने वार्ड तेईस के अर्जुन सैनी पुत्र किशोरीलाल सैनी और वार्ड चौबीस के विश्वास उर्फ पिंटू पुत्र बालकिशन जांगिड़ को गिरफ्तार किया था। आरोपियों ने मोदी के घर में घुसकर पिस्तोल व चाकू की नोक पर लूट की वारदात को अंजाम दिया था।