>


खुलासा न्यूज़, बीकानेर। बीकानेर संभाग के सबसे बड़े महाविद्यालय डूंगर में इन दिनों प्रवेश प्रक्रिया के तहत दस्तावेज सत्यापन का कार्य किया जा रहा है। जाति प्रमाण पत्र नहीं होने के कारण सत्यापन नहीं किया जा रहा है, ऐसे में छात्र-छात्राएं परेशान है। इस संबंध में एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष रामनिवास कूकणा ने कॉलेज प्रशासन से आग्रह किया कि तत्काल रूप से आवेदन किए गए जाति-प्रमाण पत्र को जारी किया जाए या इकरारनामा लें। इस पर कॉलेज प्रशासन ने आश्वासन दिया कि समस्या का समाधान किया जाएगा लेकिन कॉलेज प्रशासन द्वारा इस समस्या का समाधान आज दिनांक तक नहीं किया गया। इस संबंध में शुक्रवार को कूकणा ने कॉलेज प्रशासन को चेतावनी दी कि कल सुबह डूंगर महाविद्यालय पूरी तरह से बंद किया जाएगा। जब तक हमारी मांगे पूरी नहीं होगी तब तक मौकास्थल पर हटेंगे नहीं।

इनका कहना है…
छात्रों के हित के लिए हमेशा से ही संघर्ष करते आए है और मरते दम तक करते रहेंगे चाहे जेल भी क्यों ना जाना पड़े।
– रामनिवास कूकणा, जिलाध्यक्ष, एनएसयूआई, बीकानेर