खुलासा न्यूज, बीकानेर।  श्रीडूंगरगढ़ ।  श्रीडूंगरगढ़ क्षेत्र में जलदाय विभाग में रक्षक ही भक्षक बनने का गड़बड़झाला सामने आ रहा है। यहां पर पहले एक संविदाकर्मी द्वारा कार्यालय में से फ्रीज एवं अन्य सामान चोरी करने का मामला सामने आया था वहीं अब गांव हेमासर में ट्यूबवेल की केबल चोरी करने के मामले में भी ठेकेदारकर्मी ही सामने आए है। दोनों ही प्रकरणों में आमजन के सामने आने के कारण पकड़े गए है लेकिन सवाल उठ रहा है कि ऐसे ना जाने कितने प्रकरण हो रहे होगें जिनमें जलदाय विभाग से जुड़े लोगों द्वारा ही विभाग को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। हेमासर ट्यूबवेल चोरी के मामले के अनुसंधान अधिकारी हैडकांस्टेबल सुरेश कुमार ने बताया कि मामले में पकड़े गए दोनो आरोपी लालचंद एवं अशोक जाट ठेकेदार की लोरिंग मशीन पर काम करते है एवं ट्यूबवेल की मोटरें खराब होने पर लोरिंग के माध्यम से मोटर निकालने पर इनको पता होता था की केबल निकाल कर कहाँ रखी हुई है। दोनों आरोपियों से गांव हेमासर में चोरी की 210 मीटर केबल बरामद कर ली गई है एवं न्यायालय द्वारा दोनों आरोपियों को जेल भेजने का आदेश किया गया है