खुलासा न्यूज़, बीकानेर। बीकानेर संभाग के सबसे बड़े अस्पताल पीबीएम के लेखाधिकारी का गड़बड़झाला उजागर हुआ है। पिछले काफी समय से लेखाधिकारी नियमों को धत्ता बताकर गलत तरीके से पैसा कमाने का खेल चला रहा था। आज इस गड़बड़झाला काला सच्च सामने आया है।
जी हां, पीबीएम अस्पताल के सफाई कर्मचारी पिछले दो दिन से हड़ताल पर है, ऐसे में अस्पताल में सफाई व्यवस्था गड़बड़ाई हुई है।

आज सफाई कर्मचारी कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। इसके बाद भाजपा नेता मोहन सुराणा, अशोक बोबरवाल सफाई कर्मचारियों के साथ पीबीएम अस्पताल स्थित लेखाधिकारी कमल गोयल के कार्यालय पहुंचे। यहां पर लेखाधिकारी नहीं मिले, फोन किया लेकिन रिसिव नहीं किया। ऐसे में मामला गरमा गया। मामला बढ़ते देख पीबीएम अधीक्षक पी.के.बैरवाल ने संज्ञान लिया तो पता चला कि लेखाधिकारी अपना फोन कार्यालय में ही छोड़कर चले गये। सीट पर नहीं मिलने पर पीबीएम अधीक्षक पी.के. बैरवाल ने लेखाधिकारी गोयल को 17 सीसी का नोटिस देकर स्पष्टीकरण मांगा है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पीबीएम के लेखाधिकारी कमल गोयल  ने फर्जीवाड़ा करते हुए  नियुक्त सफाई कर्मचारियों का लिस्ट में कहीं नाम ही नहीं दिया। इस लिस्ट में नियुक्त सफाई कर्मचारियों की जगह अन्य जनों का नाम चला रहा था।