>


– जामसर की घटना
खुलासाा न्यूज़, बीकानेर। जामसर थाना क्षेत्र में ऊंट को मारकर फिर तेजाब से जलाने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। यह घटना 19 खेत चक425 आरडी डांडुसर की है। इस संबंध में परिवादी मुलाराम पुत्र श्रवणराम जाट निवासी कतरियासर ने कई नामजद आरोपियों के खिलाफ राजकीय पशु वध अधिनियम 2015 के तहत मामला दर्ज करवाया। इस मामले की जांच हैड कांनिस्टेबल सम्पतराम को सौंपी गई है।

यह है पूरा मामला
परिवादी ने दर्ज कराये मामले में बताा कि 15 जुलाई को मेरा ऊंट रात के समय घर से निकल गया तथा काफी खोजबीन की तो पता नहीं लगा इस पर 21 जुलाई को पनुमचंद पुत्र गोपालराम, रामदेव पुत्र किसनाराम ने मझुे बताया कि अपका ऊंट रेवन्तराम कूकणा पुत्र चनुाराम के खेत चक 425 आरडी डांडुसर में खेजड़ी से बंधा है । 22 जुलाई को रेवन्तराम कुकणा के 19 खेत में जाकर पछुा ईन्हो ने कहा तुम्हांरा ऊंट कहीं ओर चला गया है। मंै वहा से वापस अया यह बात पनुमचन्द व रामदेव को बताई तो उन्होंने कहा तुम्हारा ऊंट इन्होंने ही बांधा है तथा इन्होंने ही इसके साथ कुछ किया है। जिस पर मैने पूछताछ की तो मझुे अज सचूना मिली की रेवन्तराम कुकणा के पुत्र भंवरराम पुत्र रेवन्तराम, जैसाराम पुत्र भंवरराम, महेन्द्र पुत्र भंवरराम ने मेरे ऊंट को मारकर उस पर तेजाब डालकर ट्रेक्टर से घसीट कर अपने खेत से दूर फेंक दिया और मैं मौके पर पहुंचा तो ऊंट मरा हुआ था उसे तेजाब से जलाने की कोशिश की गई थी।