>


खुलासा न्यूज़, बीकानेर/ श्रीडूंगरगढ़ । श्रीडूंगरगढ़ तहसील के गावं आडसर में गत 16 जुलाई को फांसी लगा कर विवाहिता द्वारा अपनी जान देने के प्रकरण में विवाहिता की मां ने उसके पति एवं सास पर दहेज प्रताडऩा देने एवं आत्महत्या के लिए मजबुर करने का आरोप लगाते हुए मामला दर्ज करवाया है। श्रीडूंगरगढ़ थानाधिकारी सत्यनारायण गोदारा ने बताया कि गांव आडसर में 16 जुलाई को गांव आडसर में विवाहिता शारदा देवी नायक ने फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली थी। इसी प्रकरण में मृतका की मां भालेरी थानाक्षेत्र के गांव तोगावास निवासी पार्वती देवी ने मंगलवार को श्रीडूंगरगढ़ थाने में हाजीर होकर मृतका के पति सहीराम एवं सास शांतीदेवी के खिलाफ दहेज प्रताडऩा एवं आत्महत्या के लिए मजबुर करने का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज करवाया है। पार्वती देवी ने पुलिस को बताया कि उसकी पुत्री शारदा का विवाह करीब 15 वर्ष पूर्व सहीराम के साथ हुआ था एवं तभी से आरोपी उसे दहेज के लिए तंग परेशान करने लगे। इससे परेशान होकर करीब एक वर्ष तक शारदा अपने पीहर में ही रही थी लेकिन बाद में तंग नहीं करने का वायदा कर ससुराल पक्ष के लोग उसे आडसर ले आए। लेकिन दोनो आरोपियों ने प्रताडऩा जारी रखी एवं उसे दहेज में दी गई बकरी भी उसे बिना बताए बेच दी। शारदा ने विरोध किया तो दोनो आरोपियों ने उसे और अधिक प्रताडऩा देते हुए आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित किया एवं मजबुर कर दिया। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है एवं मामले की जांच सीओ श्रीडूंगरगढ़ धर्माराम गिला करेगें।