>


– श्रीडूंगरगढ़ पुलिस की कार्यवाही
खुलासा न्यूज़, बीकानेर। नकली किटनाशक दवाईयां बेचकर किसानों के साथ धोखाधड़ी करने वाला आरोपी को श्रीडूंगरगढ़ पुलिस के हत्थे चढ़ गया है। दौराने अनुसंधान मुलजिम सुभाषचन्द्र पुत्र हेतराम जाट निवासी चाइया पीएस रावतसर जिला हनुमानगढ़ को गिरफ्तार किया।

यह है पूरा मामला
13 जून को परिवादी गोविन्दसिह सैनी पुत्र कैलाशचन्द्र सैनी निवासी बास काली पहाडी जिला झुन्झन ु हाल टीएन ( टेरीटेरी मेनेजर) सुरत कम्पनी ळैच् (गुजरात सुपर फास्फेट) क्रोप र्साइ न्स प्रा. ली. अहमदाबाद के पद पर तैनात हुं ने रिपोर्ट दी कि मुझे व मेरे साथी मुकुदंचद पुृत्र रमेश चन्द पाण्डेया जिला बिठोडा जिला मेहसाना हाल टीएम (टेरीटेरी मेनेजर) कम्पनी जीएसपी क्रोप र्साइ न्स प्रा. ली. मे तैनात है। मुझे व मुकुंद चन्द को हमारी उक्त कम्पनी द्वारा तहसील डुगरगढ जिला बीकानेर मे नकली किटनाशक दवाईयां कि जांच पडताल कर पकडऩे हेत ु मनोनीत कर रखा है। 12 जून को हमे गुप्त रुप से सुचना मिली थी कि कार नम्बर आरजे 31 सीबी 0988 द्वारा हमारी कम्पनी जीएसपी क्रोप र्साइ न्स प्रा. ली. कि स्लेयर कि असली की जगह नकली दवाई बनाकर किसानो को बेचने के लिए आडसर सरदारशहर की तरफ जा रहा हैं, उक्त सूचना की रिपोर्ट पुलिस
थाना श्रीडुगरगढ को हमारे द्वारा देने पर मेने व मेरे साथी मुकुदंचन्द ने पुलिस थाना श्रीडुगरगढ के जाब्ता के साथ आडसर गांव से थोडा आगे पेट्रोल पम्प के सामने मुख्य सडक सरदारशहर रोड पर जरिये प्राइवेट वाहन के नाकाबंदी की गई तो दोराने नाकाबंनदी कार नम्बर आरजे 31 सीबी 0988 एल्र्टो आइ जिसके चालक से पुछने पर अपना नाम पता हरजीसिह पुत्र जगशीरसिह जाति जटसिख उम्र 32 साल निवासी चक 22 कुम्हारा वाली ढाणी थाना रावतसर का होना बताया। वगैरा रिपोर्ट पर मुकदमा धारा 420, 120बी भादस व 29 किटनाशक अधिनियम 1968 मे दर्ज कर तफतीश श्री राज ेन्द्र प्रसाद उनि के सपुर्द की गई ।