>



बीकानेर/हनुमानगढ़। हनुमानगढ़ के भिरानी पुलिस थाना क्षेत्र के ग्राम छानीबड़ी की अमरसिंह ब्रांच में रविवार देर शाम को दिल दहला देने वाला मामला सामने आया। यहां एक तीन वर्षीय बालिका के मिले शव के प्रकरण को लेकर भिरानी पुलिस ने बालिका के पिता रमेश कुमार कुम्हार पुत्र मेवासिंह निवासी बिराण के विरूद्ध दो पुत्रियों को नहर में डूबोकर हत्या करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आरोपी की तीन वर्षीय बेटी अवन्या को कोई सुराग नही लग पाया है। आज दिनभर पुलिस और गोताखोरो की टीम ने नहर में सर्च ऑपरेशन जारी रखा।
यह है पूरा मामला

आरोपी के भाई कृष्ण कुमार पुत्र मेवासिंह कुम्हार ने प्राथमिकी दर्ज कराई हैं कि उसका भाई रमेश कुमार रविवार शाम अपनी दोनों पुत्रियों रौनक (पांच वर्ष) एवं अवन्या (तीन वर्ष) को लेकर घर से निकला। वह और उनका परिचित ग्रामीण राजेन्द्र भी उसके पीछे-पीछे जा रहे थे। अमरसिंह ब्रांच नहर पर उन्होंने रमेश को आवाज दी कि कहां जा रहे हो तो उसने दोनों बच्चियों को नहर में धक्का दे दिया। इस पर जब वे शोर मचाते हुए उसकी तरफ भागे तो वह स्वंय भी नहर में कूद गया। आस-पास के ग्रामीणों को शोर मचाकर बुलाया व रमेश व बालिका अवन्या को नहर से निकाला। बालिका अवन्या को राजकीय चिकित्सालय छानीबड़ी लाया गया, जहां पर चिकित्सको ने उसे मृत घोषित किया। इस बीच, बड़ी बेटी रौनक नहर में बह गई। उसकी तलाश नहर में की जा रही है। सोमवार शाम तक बालिका रौनक का कोई पता नहीं लगा।
रमेश कुमार को किया गिरफ्तार

भिरानी पुलिस के एएसआई इन्द्राजसिंह, जयप्रकाश शर्मा ने आरोपित पिता रमेश कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। भिरानी पुलिस ने बालिकाओं को नहर मे फेंककर हत्या कर देने के आरोप भादंस की धारा 302 के तहत मामला दर्ज किया है। मृतक के तीन पुत्रियां थी। इस घटना से पूर्व उसकी बड़ी पुत्री भी घर के कुण्ड में डूब कर मर गई थी। मामले की जांच गोगामेड़ी थाना प्रभारी सुरेश मील को सौंपी गई। गोगामेड़ी थाना प्रभारी सुरेश मील ने मृतक बालिका का पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया।