>


खुलासा न्यूज़, बीकानेर। जिले में अतिक्रमण करने वालों के हौंसले इतने बुलंद है कि सरकारी अस्पताल को भी नहीं छोड़ा। इसकी शिकायत जब जिला कलक्टर कुमारपाल गौतम से की गई तो कलक्ट ने त्वरित तहसीलदार को कार्यवाही करने का आदेश दिया। आज तहसीलदार ने रमेश देव ने सारुंडा गांव स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र अस्पताल के भवन के लगे ताले को तोड़ दिया।

यह है पूरा मामला
उपखंड के पांचू पंचायत क्षेत्र के ग्रामीणों ने सरकार द्वारा बनाए गए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र के भवन पर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा ताला जड़ दिया गया था कब्जा करने की नियत से। जिला कलेक्टर के आदेशों की पालना में नोखा उपखंड अधिकारी रमेश देव ने बुधवार को सारुंडा गांव के स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अस्पताल के भवन पर तहसीलदार द्वारकाप्रसाद शर्मा को भेजा उपखंड अधिकारी रमेश देव व तहसीलदार ने अज्ञात व्यक्ति द्वारा लगाए गए ताले तोड़कर बिल्डिंग का ब्लॉक सीएमएचओ डॉ श्याम बजाज को सौंप दिया गया तहसीलदार द्वारकाप्रसाद शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि राज्य सरकार द्वारा लाखों रुपए की लागत से नई बिल्डिंग का निर्माण करवाया गया था सरकार द्वारा स्वीकृत चिकित्सालय पुरानी बिल्डिंग में चल रहा था जिसे यहां शिफ्ट किया जाना था जो कि नहीं किया गया था अज्ञात व्यक्ति ने मौका देखकर वहां ताला लगाकर अपना हक जताने की जानकारी मिलने पर भवन के चैनल गेट व मुख्य द्वार पर कमरों के ताले तोड़े गए अतिक्रमण करने वाला व्यक्ति अब तक सामने नहीं आया है प्रशासन द्वारा सरकारी संपत्ति पर ताला लगाने वालों की तलाश जारी है इस अवसर पर ब्लॉक सीएमएचओ सहित कार्मिक उपस्थित थे।