बीकानेर । उच्च शिक्षामंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि प्रशासन गांवों के संग अभियान राज्य सरकार का महत्व पूर्ण निर्णय है। प्रशासन स्वयं गांव में जाकर गांव के लोगों का काम मौके पर ही संपादित करेगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की मंशा अनुसार यह शिविर आयोजित किए जा रहे हैं। इसमें अधिक से अधिक लोगों को लाभान्वित किया जाए। उन्होंने बताया कि 19 विभागों की इसमें भागीदारी रहेगी, हर विभाग अपने विभाग से संबंधित योजनाओं व कार्यक्रमों के बारे में शिविर में जानकारी देगा व विभाग से संबंधित कार्य करके ग्रामीणों को लाभान्वित करेगा। ग्रामीणों की समस्याओं का मौके पर ही संबंधित विभागों द्वारा समाधान किया जाएगा।
उच्च शिक्षा मंत्री ने शनिवार को कोलायत पंचायत समिति के सभागार में ब्लाक स्तरीय अधिकारियों से प्रशासन गांव के संग अभियान को लेकर विभागों द्वारा की जा रही तैयारियों की समीक्षा की और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
उन्होंने कहा कि गांवों में आयोजित प्री-कैंप में शिविर की पूर्व तैयारी अच्छी तरह से कर ली जाए व सभी प्रक्रिया प्री-कैंप में पूरी कर लें ताकि कैंप में ज्यादा से ज्यादा लोगों के काम हो सकें। प्रशासन गांव के संग अभियान के लिए राज्य सरकार द्वारा जो गाइड लाइन जारी की गई है उसी के अनुसार सभी तैयारियां कर ली जाएं व शिविर में भी उसी के अनुसार कार्य संपादित किया जाए।
योजनाओं की लोगों को अधिक से अधिक जानकारी दी जाए
शिविर में शामिल होने वाले सभी विभाग अपनी अपनी योजनाओं के बारे में शिविर में अधिक से अधिक जानकारी आमजन को दें ताकि उन योजनाओं का लाभ ग्रामीणों को मिल सके। उन्होंने गांव में कोरोना टीकाकरण के बारे में भी जानकारी ली। उन्होंने कहा कि प्री-कैम्प में गांव में पेयजल व्यवस्था के बारे में पूछा जाए। साथ ही उपस्वास्थ्य केंद्र की व्यवस्था व पशुओं के चारे के बारे में भी जानकारी ले। उन्होंने विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि गांवों में पुराने लोहे के खंभे जो खराब हो गए हैं उन्हें हटाने व ढीले विद्युत तारों को सही किया करवाए जाए।
उन्होंने कहा कि हैण्डपंप ठीक हो, जी एल आर की मरम्मत, उसकी सफाई करवाए तथा बकाया कृषि कनेक्शन दिए जाए। जहां इंसुलेटर व विद्युत पोल लगाने व बदलने की जरूरत हो, वे कार्य पहले से चिन्हित करें ताकि मुख्य शिविर में मांग आने पर ये कार्य करवाए जा सकें।
उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि पालनहार योजना में बच्चों को चिन्हित कर शत प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त करें। सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग संबंधित विभागों से समन्वय कर सामाजिक सुरक्षा की जरूरतमंदों लाभ दिलाए।
उन्होंने विद्युत विभाग के अधिशाषी अभियंता को निर्देश दिए कि त्रुटिपूर्ण मीटर, ट्रांसफार्मर, विद्युत पोल बदलने और नए पोल लगाने की व्यवस्था शिविर में रखे।
उन्होंने कहा कि जिन आंगनबाड़ी केन्द्रों के भवन जमीन के अभाव में नहीं बन सके हैं, उनके लिए उप खण्ड अधिकारी व विकास अधिकारी जमीन आंवटन कर, शिविर में पट्टे जारी करवाएं ।
बैठक में उपखण्ड अधिकारी प्रदीप कुमार चाहर, विकास अधिकारी दिनेश सिंह भाटी, उप निवेशन विभाग के नायब तहसीलदार शिव प्रसाद गौड़, अधिशाषी अभियन्ता पीडब्ल्यूडी संजय चौधरी, जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधिशाषी अभियन्ता नफीस अहम्मद, कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य,आयुर्वेद विभाग, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग सहित विभिन्न विभागों के ब्लाक स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।