>


– कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक
खुलासा न्यूज़, बीकानेर। शनिवार को कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक आयोजित हुई। जिला स्तरीय इस बैठक में ऊर्जा, जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डॉ.बी.डी.कल्ला, उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी, जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम, विधायक गोविंद राम मेघवाल, जिला प्रमुख सुशीला सींवर, पुलिस अधीक्षक प्रदीप मोहन शर्मा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे। इस दौरान विधायक गोविन्दराम मेघवाल ने बिजली व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि आसमान से आग बरस रही है और ऊपर से बिजली व्यवस्था बेहाल है, तब मंत्री भंवरसिंह भाटी ने भी विधायक मेघवाल के सुझाव पर सहमती जताई। इतना ही नहीं मंत्री जी को कहा कि बाड़मेर में ज्यादा कर्मचारी है जो बीकानेर में लगा दिया जाए। इस बात पर मंत्री कल्ला बोल पड़े कि ऐसा थोड़ा ही ना होता है। मंत्री कल्ला के यह बात राजनीति गलियारों में गपशप का कारण बन गई। साथ ही सरकारी कार्यालयों में भी कर्मचारी भी खुसर-फुसर करने से नहीं चुके ।

जिले के प्रभारी मंत्री बोले- पानी की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए
जिले के प्रभारी मंत्री व अल्प संख्यक मामलात विभाग मंत्री सालेह मोहम्मद ने कहा है कि गर्मी के मौसम को देखते हुए अधिकारी यह सुनिश्चित करलें कि शहर से लेकर गांव-ढाणी तक पेयजल और विद्युत आपूर्ति निर्बाद्ध रूप से चलती रहे। अभावग्रस्त गांवों में अकाल राहत के तहत कार्य तथा पशुओं के लिए चारे व पानी की समुचित व्यवस्था होनी चाहिए। प्रभारी मंत्री ने कहा कि अभाव ग्रस्त गांवों में मांग के अनुसार चारा डिपो खोला जाए तथा क्षेत्र की गौशालाओं को आर्थिक मदद प्रदान की जाए। जितना अंशदान राज्य सरकार द्वारा निर्धारित किया गया है उतना अंशदान उन्हें आवश्यक रूप से तत्काल मिल जाएं यह सुनिश्चित कर लिया जाए।

मंत्री कल्ला बोले-
डॉ.बी.डी.कल्ला ने कहा कि सभी पात्र व्यक्तियों को रसद सामग्री समय पर मिल जाए यह सुनिश्चित किया जाए, किसी तरह की तकनीकी खराबी के कारण आमजन को राशन सामग्री लेने में दिक्कत नहीं आनी चाहिए। उन्होंने कहा कि आने वाले वर्षात के समय से पूर्व ही स्थानीय प्रजाति के पौधे लगाने की कार्य योजना भी बना लें। उन्होंने कहा कि कोटगेट तथा बड़ा बाजार में स्थित सब्जी मंड़ी में यातायात व्यवस्था ठीक करते हुए जरूरत के मुताबिक छाया की व्यवस्था करें तथा दोनों स्थानों पर सार्वजनिक शौचालयों का निर्माण भी करवाया जाए। उन्होंने नगर निगम, आर.यू.आई.डी.पी. के अधिकारियों से कहा कि सर्वोदय बस्ती से मुक्ता प्रसाद कॉलोनी की ओर जाने वाले नाले के पानी को अंतिम छोर तक निकासी की व्यवस्था करें ।

उन्होंने विद्युत वितरण निगम के अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिले के विभिन्न क्षेत्रों में ढीले तार व टूटे खम्भों को ठीक किया जाए। पिछले दिनों नापासर में हुई दुर्घटना पर डॉ.कल्ला ने दुख व्यक्त करते हुए कहा कि भविष्य में विद्युत लाइनों से किसी तरह की जान माल की हानि नहीं हो इसके पुख्ता बंदोबस्त किए जाएं। डॉ.कल्ला ने कहा कि नापासर दुखांतिका में मृृतक के परिजनो ंका 5 लाख रुपए का मुआवजा दिया गया है। जल्द ही मुख्यमंत्री सहायता कोष से भी आर्थिक इमदाद दिलाई जाएगी ।
ऊर्जा-जन स्वास्थ्य अभियंात्रिकी मंत्री ने कहा कि अधिकारियों को चाहिए कि अकाल राहत के तहत मनरेगा के कार्यों का निरीक्षण समय-समय पर करते रहे, मौक पर छाया, पेयजल व चिकित्सा आदि सुविधाओं को देखते हुए अपने निरीक्षण प्रतिवेदन में टिप्पणी आवश्यक रूप से करें। उन्होंने बताया कि काश्तकारों व आमजन को पेयजल सुगमता से मिलें, अगर पानी की किसी तरह की समस्या हो जो टोल फ्री नम्बर 181 पर सूचना दी जा सकती है। उन्होंने कहा कि जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग की ग्रामीण क्षेत्र में बनी डिग्गियों की साफ सफाई के कार्य को मनरेगा से जोड़ा जाकर डिग्गियों की सफाई एवं मरम्मत आदि का कार्य किया जाएगा।

भाटी ने कही यह बात
उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि कोलायत पंचायत समिति की ग्राम पंचायत भलूरी में विद्युत आपूर्ति की समुचित व्यवस्था की जाए साथ ही कोलायत क्षेत्र की जिन ढाणियों में विद्युत कनेक्शन के लिए आवेदन हो रखे है उनका निस्तारण करते हुए शीध्र कनेक्शन किए जाएं। उन्होंने कहा कि जिला मुख्यालय सहित सभी चिकित्सालयों में नि:शुल्क दवा योजना के तहत दी जाने वाली दवाइयां उपलब्ध रहे यह भी सुनिश्चित किया जाए। भाटी ने कहा कि नगर विकास न्यास अपने क्षेत्र में आने वाली विभिन्न सड़कों का निर्माण वर्षात आने से पूर्व ही करवा लें, विशेषकर करमीसर के आगे कोलासर, आदि गांवों में जाने वाली न्यास क्षेत्र की भूमि में सड़क का निर्माण प्राथमिकता से करवाया जाए। उन्होंने कहा कि कृषि विभाग राज्य सरकार की मंशा के अनुसार काश्तकारों को बीज कीट व यूरिया आदि की उपलब्धता सुनिश्चित करें।

विधायक मेघवाल भी बोले…
खाजूवाला विधायक गोविंद राम मेघवाल ने कहा कि खाजूवाला क्षेत्र में पेयजल की समुचित व्यवस्था की जरूरत है, इसके लिए जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग पृृथक से कार्य योजना बनवाकर खाजूवाला क्षेत्र के विभिन्न गांवों में पीने का पानी सुलभ करवावें। वन विभाग नहरों के किनारे जो पेड़ लगे है, उन्हें सुरक्षित रूप से वहां से काटकर हटवालें। समय-समय पर तेज आंधी व वर्षा के कारण नहरों के किनारे लगे पेड़ टूट कर गिरते है जिससे नहर व पटड़े टूटते है। उन्होंने पी.बी.एम. अस्पताल के चिकित्सकों द्वारा निजी अस्पतालों में रोगियों के भेजने के की बात भी कही तथा इस पर प्रभावी अंकुश लगाने की आवश्यकता जताई।
बैठक में जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने जिले में मनरेगा के तहत चल रहे कार्यों, पेयजल, विद्युत आपूर्ति, मौसमी बीमारियों की रोकथाम आदि पर विस्तार से बताया। बैठक में आयुक्त नगर निगम प्रदीप के गवाडें, शिक्षा, सार्वजनिक निर्माण विभाग, विद्युत, वन, चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।