>


खुलासा न्यूज़, बीकानेर। रक्षाबंधन से ठीक पहले बहिन का रक्षक माना जाने वाला भाई ही भक्षक बन गया । सगे भाई ने अपनी बहिन पर जानलेवा हमला कर दिया जिससे उसके उसके दोनों पैर कई जगहों से जख्मी हो गए। वहीं दोनों हाथों में फ्रैक्चर हो गए। डॉक्टर्स का कहना है कि भाई के प्रहार से घायल हुई बहन अगले तीन महीनों तक बिस्तर से उठ नहीं पाएगी। यह घटना बीती रात सेरूणा थाना क्षेत्र के गोपालसर की।

यह है पूरा मामला
गोपालसर गांव में अपनी मां के साथ नानी के घर आई हुई सरोज पर उसके सगे भाई रामरतन व मामा देवीलाल व श्रवण ने हमला कर दिया। हमलावर दो मोटरसाइकिलों में सवार होकर दो-तीन अन्य के साथ आए थे। आरोपियों ने सरोज पर कुल्हाड़ी से भी वार किए। क पुलिस को सूचना मिलने पर पूर्णसिंह एचसी मय टीम मौके पर पहुंची और हमले में घायल हुई सरोज को स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, जहां से उसे पीबीएम ट्रोमा सेंटर रैफर किया गया। सरोज अभी पीबीएम में भर्ती है। वहीं उसके पर्चा बयान पर पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ जानलेवा हमले की धारा 307 आईपीसी सहित 458, 382, 323, 342 व 34 आईपीसी के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू की है।