बीकानेर। श्रीडूंगरगढ़ थाने में 1 जून को एक व्यक्ति ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था कि एक युवती अपने घर पर आई हुई थी। जब से वह अपने घर पर आई है तब से एक व्यक्ति मोबाइल युवती को फोन कर है और फोन अश्लील बोलता है उसको कई बार मैने समझाया की वो फोन नहीं करे लेकिन व्यक्ति नहीं माना और सामने से युवती को धमकियां देने लगा कि हम जैसे कहे वैसा करना हम जहां बुलाया वहां पर आ जाना उन दोनों को ब्लैकमेल करने लगा। युवक ने युवती को फोन पर कहा कि अगर हम जैसा कहे वैसा नहीं किया तो हम तुम्हारी फोटो में एडिटीग करके तुम्हारे रिश्तेदारों को भेजकर तुम्हे बदनाम कर देंगे। युवती ने युवक की बात को नहीं माना तो युवक ने युवती की फोटो को कम्पयूटर अश्लील तरीक से एडिटिंग करके युवती के रिश्तेदारों को भेज व वाटसअप के जरिये उसको वायरल कर दिया। इस तरह से युवती की लज्जा भंग कर दी। जब युवक से बात की तो उसने रुपये की डिमांड कर दी। इस पर पुलिस ने धारा 354 घ, 506, 509 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया। पुलिस ने ममाले की जांच की तो इस मामले में तीन जने शामिल थे जो महिला को मैसेज व कम्प्यूटर से फोटो एडिटिग करके उसके रिश्तेदारों को भेजी ये तीनों पेश से ड्राईवर है। इस मामले मे 13 जून को सीओ श्रीडूंगरगढ़ ने धारा 354, घ 506, 509, 376 (2) एन 376 डी के तहत डूंरगरढ़ से आरोपी युनीश अली पुत्र दाऊद अली पेश ड्राईवर बाकरा फाटक के पास झुन्झुन व मोहम्मद एजाज पुत्र मोहम्द रफीक व इमरान खान पुत्र इस्लाम को गिरफ्तार कर जेल भेजा।