>



बीकानेर। श्री गोपेश्वर विद्यापीठ सैकेंडरी स्कूल एवं डिसेंट किड्स स्कूल के पारंपरिक रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम “आरोहण” का आयोजन गोपेश्वर बस्ती के पी एन पैलेस में हुआ। स्कूल के समन्वयक गिरिराज खैरीवाल ने बताया कि इस अवसर पर दोनों स्कूलों के सैंकड़ों बच्चों ने देशभक्ति, होली व महिला चेतना की विभिन्न प्रभावी प्रस्तुतियां पेश कर देश की संस्कृति को बचाने के सशक्त संदेश दिए।

नन्हे मुन्ने बच्चों ने स्वच्छता संरक्षण, महात्मा गांधी के त्याग, होली व प्रेरणा दायी कार्यक्रमों के माध्यम से अपने विश्वास का प्रदर्शन कर दर्शकों का भरपूर आशीर्वाद प्राप्त किया। कक्षा 2 की छात्रा अश्लेषा के “तेरी मिट्टी में मर जावा”.. गीत पर कंटेपररी डांस के बाद तालियों की गडग़ड़ाहट ने रूकने का नाम ही नहीं लिया। विनीता उपाध्याय ने कालबेलिया डांस पेश कर दाद लूटी। विठ्ठल वल्लभ स्वामी के निर्देशन में प्रस्तुत देश भक्ति नाटक के बाद सभी भावुक हो गए और भारत माता की जयकार गूंज उठी। इस अवसर पर स्कूल के विभिन्न तरह के पुरस्कार भी बच्चों को प्रदान किए गए। जिनमें इक्कीस तरह की एक्टिविटीज, पारंपरिक खेलों के आयोजन “धाड़ धुक्कड़” के विजेताओं को, सत्र 2018 – 2019 में कक्षा 5, 8 व 10 में अव्वल रहने वाले स्टूडेंट्स को पुरस्कार से सम्मानित किया गया। स्काउट व गाइड के विभिन्न शिविरों, गतिविधियों में अव्वल स्टूडेंट्स को भी इस अवसर पर पुरस्कार दिए गए। दोनों स्कूलों के स्टाफ का भी सम्मान किया गया।

शाला प्रधानाध्यापिका भंवरी देवी ने बताया कि इस अवसर पर प्रसिद्ध फिल्म अभिनेत्री सीमा मोटवानी, स्काउट व गाइड की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ विमला डुकवाल, डॉ स्वाति बिन्नाणी एवं देवस्थान विभाग की इंस्पेक्टर सोनिया रंगा का विशिष्ट सम्मान शॉल और सेवाभिनंदन पत्र भेंट कर किया गया। झारखंड के वरिष्ठ रंगकर्मी दिनकर शर्मा ने अपने एकपात्रीय नाटक के पक्षी के कुछ अंश पेश कर उपस्थित सभी दर्शकों को भाव विभोर कर दिया। सीमा मोटवानी ने फिल्म शोले के कुछ डॉयलोग भी सुनाए तथा स्कूल की गतिविधियों की सराहना की। प्रसिद्ध वास्तुशास्त्री आर के सुतार ने मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए विद्यालय के नवाचारों और संस्कृति संरक्षण के लिए किए जा रहे प्रयासों की भरसक सराहना की। इस अवसर पर डॉ चंद्रशेखर श्रीमाली, प्रभुदयाल गहलोत, जसवंत सिंह राजपुरोहित,विकास शर्मा, दयानंद शर्मा, घनश्याम साध, भवानीशंकर जोशी, कृष्ण कुमार स्वामी, रमेश बालेचा, रमेश कुमार मोदी, मो फारुक, इत्यादि सहित अनेक गणमान्य जन उपस्थित थे। कार्यक्रम का शुभारंभ वार्ड पार्षद एडवोकेट सुशील कुमार सुथार एवं शिक्षाविद् प्रदीप कुमार कच्छावा ने मां सरस्वती के चित्र के समक्ष द्वीप प्रज्ज्वलित कर किया। कार्यक्रम का संचालन विष्णु नायक और कक्षा नौ के छात्र योगेश सिंह राजपुरोहित ने किया। शाला समन्वयक गिरिराज खैरीवाल ने अतिथियों का परिचय प्रस्तुत किया तथा स्वागत व आभार वक्तव्य दिया।