>


हनुमानगढ़। गांव डबलीराठान से पीलीबंगा की तरफ गांव कमाना के पास रविवार तड़के चलती रेलगाड़ी में सनसनीखेज घटना हुई। किसी बात को लेकर दो जनों ने आरपीएफ जवान पर हमला कर उसे घायल कर दिया। फिर रेलवे पुलिस की कार्यवाही से घबरा कर चलती रेलगाड़ी से कूदकर भागने की कोशिश की। मगर इस प्रयास में एक जना रेलगाड़ी से कटकर मर गया। जबकि उसका साथी् गंभीर घायल हो गया। उसे एम्बुलेंस 108 की मदद से हनुमानगढ़ जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। जबकि घायल आरपीएफ जवान को श्रीगंगानगर की सूरतगढ़ तहसील के राजकीय चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। वहीं पुलिस ने रेलगाड़ी से कटे युवक का शव जिला चिकित्सालय की मोर्चरी में रखवाया है।जानकारी के अनुसार डबलीराठान रेलवे स्टेशन से तीन किलोमीटर दूर पीलीबंगा की तरफ गांव कमाना के आबादी क्षेत्र की रेलवे लाइन के समीप शनिवार रात करीब डेढ़ बजे दो जने चलती रेलगाड़ी से कूद गए। गुवाहाटी-लालगढ़ एक्सप्रेस रेलगाड़ी पीलीबंगा की तरफ जा रही थी। उसमें सवार दो जनों ने आरपीएफ जवान पर किसी तेजधार हथियार से हमला कर घायल कर दिया। इसके बाद दोनों गाड़ी से कूद गए। इससे एक जना रेलगाड़ी से कट गया। घायल हुए उसके साथी की पहचान भरत सिंह (30) पुत्र मनमोहन सिंह निवासी बठिंडा के रूप में हुई। सूचना मिलने पर सदर थाने की डबलीराठान चौकी के प्रभारी हीरालाल तथा जीआरपी हनुमानगढ़ के प्रभारी अनूप कुमार मय जाब्ता मौके पर पहुंचे। घायल आरपीएफ जवान भगवानाराम को सूरतगढ़ के राजकीय चिकित्सालय में भर्ती कराया गया। जबकि घायल भरत सिंह व उसके मृत साथी का शव जिला अस्पताल लाया गया।जीआरपी पुलिस आरपीएफ जवान तथा दोनों युवकों के बीच हुए झगड़े के कारणों की पड़ताल में जुटी हुई है। घटना की जानकारी रात लगभग दो बजे रेलवे स्टेशन पर दी गई। पीलीबंगा की तरफ गांव कमाना से पहले दोनों रेलवे फाटकों पर गेटमैन को सूचित कर जानकारी मांगी तो अंधेरा होने के कारण रेलगाड़ी से कूदे युवकों का पता नहीं चल सका। इसके बाद रविवार तड़के युवक का शव व घायल युवक मिला।
नहीं हो सकी पहचान जीआरपी हनुमानगढ़ के अनूप सिंह ने बताया कि भरत सिंह के साथ रेलगाड़ी से कूदे मृतक की शिनाख्त अभी नहीं हो सकी है। भरत सिंह भी गंभीर घायल होने के कारण अभी ज्यादा कुछ बताने की स्थिति में नहीं है। उसकी तबीयत में सुधार होने के बाद घटना व मृतक को लेकर पूछताछ की जाएगी। मृतक की जेब से पहचान का कोई दस्तावेज वगैरह नहीं मिला