– कुशालसिंह मेड़तिया
खुलासा न्यूज़, बीकानेर। कोरोना अभी समाप्त नहीं हुआ । इसे बेअसर करने की कोई दवा भी अभी तक नहीं आई है। सावधानीसे ही इससे बचा जा सकता है। इसके लिए समय-समय पर केन्द्र व राज्य सरकार लोगों को जागरूक करती रही है। एक तरफ जहां कोरोना को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बेहद चिंतित है तो दूसरी ओर बीकानेर में मंत्री, विधायक व नेता जरा भी गंभीर नहीं है। पंचायतीराज आम चुनाव -2020 का चुनाव प्रचार में कोरोना गाइडलाइन की सरेआम धज्जियां उड़ा रहे है। उनकी देखा देखी सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी और मास्क न पहनने की बात आम हो रही है। इससे कोरोना संक्रमण का जोखिम बढ़ रहा है। अगर यही स्थिति बनी रही तो आने वाले दिनों में इसका भयानक परिणाम देखने को मिलेगा। ये  फोटो देखकर आप दुख अंदाजा लगा सकते हैं कि कोरोना किस तरह से तांडव मचाने वाला है।

मौत के मुंह में डाल रहे मंत्री, विधायक व नेता व जनप्रतिनिधि
जिले में दिनों-दिन कोरोना का ग्राफ बढ़ता जा रहा है। मौत के मामले में भी बीकानेर प्रदेश में तीसरे नंबर पर है। स्थितियों हर पल बिगड़ रही है। इसके बावजूद भी जनप्रतिनिधि आम जनता को मौत के मुंह में डालने का काम रहे है।  मंत्री, विधायक व नेता लोगों को जागरूक करने की बजाय सोशल डिस्टेंसिंग खत्म कर बीमारी की चेन को आगे बढ़ाने में तुले है। अगर ऐसा ही चलता रहा तो इसका परिणाम बहुत भयानक होगा।

खुलासा करेगा बेखौफ नेताओं की खबर फ्लैश
पंचायतीराज आम चुनाव में नेतागण कोविड-19 नियमों की धज्जियां उड़ाने में लगे हुए है। बिना मास्क लगाए भाषणबाजी कर रहे है। उनकी सभाओं में किसी भी प्रकार की कोई सोशल डिस्टेसिंग की पालना नहीं की जा रही है। कोरोना को न्यौता देने वाले ऐसे नेतागणों की खुलासा न्यूज फ्लैश करेगा। अगर आपके क्षेत्र में कोई सरपंच प्रतिनिधि व नेता कोवड-19 के नियमों की अनदेखी कर रहा है तो वीडियो व फोटोज हम तक इस नंबर 7665980000 पहुंचाइए, हम आपकी बात को आवाज देंगे।

कोरोना को लेकर मुख्यमंत्री गहलोत का बड़ा फैसला, बीकानेर में नाइट कर्फ्यू
कोरोना को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंत्रिपरिषद की बैठक में बड़ा फैसला लेते हुए कई जिलों में नाइट कफ्र्यू लगाया गया है। रात 9.30 बजे से सुबह 6 बजे तक नाइट कफ्र्यू रहेगा। जयपुर, जोधपुर, कोटा, बीकानेर में यह कफ्र्यू लगाया गया है।