बाप की हत्या के बाद पेट्रोल छिड़कर कर लाश में लगा दी आग
– पुलिस की सख्ती के बाद दोनों ने कबूला हत्या का गुनाह

पिता की रोक-टोक से नाराज थी 15 साल की छात्रा, बॉयफ्रेंड के साथ मिलकर कर दी हत्या…. बंगलुरु में जोधपुर निवासी परिवार की एक 15 साल की कक्षा 9 में पढऩे वाली लड़की ने अपने 19 साल के प्रेमी प्रवीण के साथ मिल कर अपने 41 साल के बाप जयकुमार का मर्डर कर दिया..

खुलासा न्यूज़, बीकानेर। कई बार हम जो सपनों में भी नहीं सोच सकते हैं जिसके बारे में हम कल्पना भी नहीं कर सकते हैं, वैसे ही घटना हमको सुनने को मिलती है ।ऐसी घटना जिसको सुनने मात्र से आप पढ़ने वालों के और रोंगटे खड़े हो जाएंगे ।एक पिता जिसका नाम जयकुमार जैन(गोधा) है जो मूलतः राजस्थान के ( निमाज निवासी) है अभी बेंगलुरु में कपड़े का व्यवसाय करते हैं और बहुत ही संपन्न है,खुद की दुकान खुद, का घर एक खुद का, गुरु भक्त पिछले वर्ष ही जिन्होंने दशलक्षण पर्व के 10 उपवास किये थे, ऐसे धार्मिक प्रवृत्ति के जयकुमार जैन (गोधा)का कत्ल हो जाता है जब मालूम पड़ता है कत्ल किसने किया तो सुनने मात्र से रोंगटे खड़े हो जाते हैं क़त्ल और किसी ने नहीं किया उनकी खुद की बेटी ने किया। बेटी का नाम इसलिए नहीं लिख सकते हैं क्योंकि वह माइनर है उसकी उम्र मात्र 15 साल है वह अपने एक मित्र जिसका नाम प्रवीण है वो 19 वर्षीय है उसके साथ मोबाइल पर बात करती रहती थी व्हाट्सएप करती रहती थी एवं अन्य गतिविधियों में लिप्त थी सुनने में तो यह भी आया कि वह लड़की ड्रग्स भी लेती थी। जब पिताजी को यह नागवार हुआ तो उन्होंने अपनी बेटी को डांटा और प्रवीण से नहीं मिलने की हिदायत दी। उस मात्र 15 साल की मासूम सी लगने वाली लड़की ने अपने पिताजी को दूध के अंदर सबसे पहले नींद की गोलियां मिला दी (उसकी मम्मी और भाई एक सगाई में पांडिचेरी गई हुए थे) पिताजी छोड़कर आए उसके बाद बच्ची ने दूध में नींद की गोली मिली हुई अपने पिताजी को पिला दी पिता जी बेहोश हो गए। उसके बाद उसने अपने मित्र मात्र 19 साल के प्रवीण की मदद ली और चाकू से गर्दन की नस काट दी उस के बाद हाथ की कलाई भी काट दी उसके बाद भी जब देखा पिताजी की सांसे चल रही है तो बेडरूम से गद्दा लिया और पिताजी को बाथरूम में ले जाकर उस गद्दे पर रखकर पेट्रोल डालकर आग लगा दी यह सोचकर की जब पूरा जल जाएंगे उसकी राख को मैं फ्लैश कर दूंगी परंतु धुआं उठा और पड़ोसियों ने धुआं उठता देखा तो शोर मचा दिया। वह लड़की भागी भागी आई और यह नाटक किया कि पिताजी ने गेट बंद कर लिया है परंतु जैसा कि हम को पता है पुलिस की सूझबूझ से कोई नहीं बच पाया है पुलिस ने लड़की को पकड़ लिया । उस बच्ची ने अपना गुनाह कबूल कर लिया एक 15 साल की बच्ची ने अपने 41 साल के पिताजी को जान से मार दिया।